RBI की बड़ी राहत ,अब Paytm यूजर्स के UPI पेमेंट बंद नहीं होगी

Sahab Ram
2 Min Read

 

 

Yuva Haryana : भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 31 जनवरी को Paytm पेमेंट बैंक की ज्यादातर सेवाओं पर रोक लगाने का आदेश जारी किया था। यह आदेश 15 मार्च को समाप्त होने वाला था। RBI ने स्पष्ट किया कि अगर पेटीएम अपनी UPI सेवा को जारी रखना चाहता है तो उसे किसी अन्य बैंक के साथ लिंक करना होगा। इसके बाद, पेटीएम ने चार बैंकों के साथ समझौता किया।

15 मार्च की डेडलाइन से पहले ही, पेटीएम को बड़ी राहत मिली है। एनपीसीआई ने पेटीएम की पेरेंट कंपनी One97 Communications Limited (OCL) को यूपीआई के तौर पर थर्ड पार्टी एप्लिकेशन प्रोवाइडर (TPAP) के रूप में हरी झंडी दी है। नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने मल्टी-बैंक मॉडल के तहत थर्ड-पार्टी एप्लिकेशन प्रोवाइडर (TPAP) के रूप में UPI सेवाएं देने के लिए इस स्वीकृति को दी है।

इसके बाद, पेटीएम के पार्टनर बैंक यानी पेमेंट सिस्टम प्रोवाइडर (PSP) के रूप में चार बैंकों के साथ समझौता किया गया। इन बैंकों के साथ पेटीएम की UPI सेवाएं चलती रहेंगी। ये चारों बैंक पेटीएम के पीएसपी (Payment System Provider) के रूप में काम करेंगे।

इस नए इंतजाम से पेटीएम यूजर्स को बड़ा फायदा होगा। अब वे और व्यापारी बिना किसी बाधा के पेटीएम ऐप के माध्यम से UPI लेनदेन कर सकेंगे। इसके साथ ही, नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने पेटीएम को अपने सभी मौजूदा हैंडल और मैंडेट्स को नए PSP बैंकों में शीघ्र अति शीघ्र माइग्रेट करने का आदेश दिया है।

इस समझौते के माध्यम से, पेटीएम ने अपनी सेवाओं को बढ़ावा दिया है और यूपीआई सेवा को जारी रखने का समर्थन किया है। यह भारतीय डिजिटल भुगतान क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण कदम है और उपभोक्ताओं को अधिक सुविधाएं प्रदान करेगा। इस समझौते से नेतृत्व विश्वास को भी दिखाया गया है कि बैंकों और डिजिटल पेमेंट प्लेटफ़ॉर्मों के बीच साथीपन से अधिक सुविधा प्राप्त होती है।

Share This Article
Leave a comment