Yuva Haryana
ऑनलाइन पढ़ाई के नतीजे: बच्चे का न्यूटन का चौथा नियम देखकर हो जाएंगे लोटपोट, IAS ने बताया कोविड काल का न्यूटन
 

एक बार फिर से कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी होने लगी है। जिसकी वजह से कई शहरों में फिर से लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। इस साल उम्मीद की जा रही थी कि बच्चों के स्कूल फिर से शुरु हो जाएंगे लेकिन कोरोना ने फिर से बच्चों की पढ़ाई पर ब्रेक लगा दिया है।

कोरोना की वजह से इस साल भी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान वापस ऑनलाइन मोड में आ रहे हैं। इस बीच बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई के नतीजे भी सामने आने लगे है। सोशल मीडिया पर एक बच्चे ने न्यूटन के चौथे नियन को ही बदल डाला।

न्यूटन के चौथे नियम को समझाने के लिए बच्चे ने कोरोनावायरस महामारी का इस्तेमाल किया। आईएएस अधिकारी अवनीश शरण ने ट्विटर पर एक बच्चे की नोटबुक की एक तस्वीर शेयर की. जिसमें बच्चे ने न्यूटन के चौथे नियम को मजेदार तरीके से समझाया है।

उन्होंने लिखा, "न्यूटन का चौथा नियम: जब कोरोना बढ़ता है पढाई घटती है और जब कोरोना घटता है तब पढाई बढ़ती है। अर्थत कोरोना पढाई का व्युतक्रिमनुपति होता है। छात्र ने कोरोना और पढ़ाई के बीच संबंध को समझाने के लिए एक समीकरण का भी इस्तेमाल किया।

बच्चे ने 'k' को एक चर के रूप में इस्तेमाल किया और इसे 'बरबादी' स्थिरांक बताया। अपने ट्वीट के कैप्शन में आईएएस शरण ने कहा, कि ये बच्चा कोरोना युग का न्यूटन है। इस ट्वीट को यूजर्स काफी पसंद कर रहे है। एक यूजर ने मजाक में कहा, "वाह... ये कोरोना को घोल के पी गया है." दूसरे ने लिखा, "कोरोना का नया कानून आया है." तीसरे यूजर ने कमेंट किया, "न्यूटन का कोविड का चौथा नियम."