Yuva Haryana
मोबाइल पर ऑनलाइन लूडो खेलते खेलते शादीशुदा महिला को पाकिस्तानी युवक से हुआ प्यार, फिर उठाया ये कदम
 

राजस्थान के धौलपुर जिले से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां पर एक विवाहिता को ऑनलाइन लूडो खेलते हुए पाकिस्तान में रहने वाले अली नाम के शख्स से दोस्ती हुई और देखते ही देखते दोनों को एक दूसरे से प्रेम हो गया. 

इसके बाद महिला अपना ससुराल और बच्चे को छोड़कर बिना किसी को बताए अपने प्रेमी से मिलने पाकिस्तान के लिए निकल गई, लेकिन पुलिस ने उसे अमृतसर के जलियांवाला बाग इलाके से पकड़ लिया. दरअसल महिला जलियांवाला बाग के पास अटारी जाने के लिए ऑटो के बारे में पूछताछ कर रही थी, तभी वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को उस पर शक हुआ और महिला से पूछताछ की गई तब पूरा मामला खुल गया. 

महिला को पकड़ने के बाद उसके परिजनों को अमृतसर बुलाया गया और उसे उनके सुपुर्द कर दिया. महिला ने पुलिस को बताया कि उसकी 6 महीने पहले ऑनलाइन लूडो खेलते हुए उसकी दोस्ती पाकिस्तान के रहने वाले युवक अली से हो गई. जिसके बाद चैटिंग के दौरान दोनों में व्हाट्सएप से बात होने लगी.

पाकिस्तानी युवक ने विवाहिता को मिलने के लिए उसे अटारी बॉर्डर पर बुला लिया. पाकिस्तानी युवक अली ने विवाहिता से कहा कि वो किसी तरह से अटारी बॉर्डर तक पहुंच जाए, जहां से उसका दोस्त उसे पाकिस्तान ले आएगा.

शादीशुदा महिला को पाकिस्तानी युवक संग हुआ प्यार

प्रेम पागल हुई महिला ने अपना परिवार और दो साल के बच्चों को घर पर छोड़ दिया और बीते बुधवार की दोपहर पाकिस्तान के लिए निकल गई. जहां जलियांवाला बाग पर पहुंचकर विवाहिता अटारी जाने के लिए ऑटो ढूंढने लगी. इसी बीच अमृतसर पुलिस ने उसे संदिग्ध मानकर पकड़ लिया. जहां पूछताछ में विवाहिता ने ऑनलाइन दोस्ती के बाद पाकिस्तानी युवक से मिलने की इच्छा जाहिर की.

सैपऊ पुलिस थाने के रीडर राजकुमार ने बताया कि अमृतसर पुलिस ने उसके ससुराल पक्ष को सूचना दी और उन्हें अमृतसर बुलाकर विवाहिता को उनके सुपुर्द कर दिया. जहां से ससुराल पक्ष के लोग विवाहिता को लेकर धौलपुर पहुंच गए हैं. 

पुलिस थाना के रीडर राजकुमार ने बताया कि विवाहिता उनके क्षेत्र की रहने वाली है. जो अपने परिवार को छोड़कर दो दिन पूर्व घर से निकल गई. बुधवार को घर से निकलने के बाद ससुराल पक्ष के लोगों ने उसकी तलाश की. इसी बीच गुरुवार को अमृतसर पुलिस ने महिला को जलियांवाला बाग इलाके से पकड़ लिया.

पुलिस से सूचना मिली कि महिला के परिजनों को भेजने का संदेश दिया. परिजनों द्वारा पुलिस थाने को कोई लिखित में तहरीर नहीं दी थी. फिर तुरंत ही महिला के परिजनों को अमृतसर भेज दिया गया.