\u0917\u093E\u0902\u0935-\u0917\u093E\u0902\u0935 \u0938\u094D\u0935\u091A\u094D\u091B\u0924\u093E \u0905\u092D\u093F\u092F\u093E\u0928 \u091A\u0932\u093E\u090F\u0917\u0940 \u092E\u0928\u094B\u0939\u0930 \u0938\u0930\u0915\u093E\u0930, \u091A\u093E\u0930 \u0932\u093E\u0916 \u0932\u094B\u0917 \u0932\u0947\u0902\u0917\u0947 \u0939\u093F\u0938\u094D\u0938\u093E

“The world’s most advanced Real Content in Hindi”

  1. Home
  2. राजनीति

गांव-गांव स्वच्छता अभियान चलाएगी मनोहर सरकार, चार लाख लोग लेंगे हिस्सा

Yuva Haryana Chandigarh, 20 Sep, 2018 हरियाणा के गांवों को साफ एवं स्वच्छ बनाने के लिए राज्य स्तरीय एक अभियान चलाया जाएगा, ताकि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र को भी साफ-सुथरा रखा जा सकें। इस संबंध में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने विशेष निर्देश दिए हैं कि आगामी 2...


गांव-गांव स्वच्छता अभियान चलाएगी मनोहर सरकार, चार लाख लोग लेंगे हिस्सा

Yuva Haryana

Chandigarh, 20 Sep, 2018

हरियाणा के गांवों को साफ एवं स्वच्छ बनाने के लिए राज्य स्तरीय एक अभियान चलाया जाएगा, ताकि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र को भी साफ-सुथरा रखा जा सकें। इस संबंध में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने विशेष निर्देश दिए हैं कि आगामी 2 अक्तूबर, 2018 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती से पहले- पहले राज्य के सभी महाग्राम व्यापक रुप से स्वच्छ होने चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत गांधी जयंती के दिन राज्य के दो लाख स्कूल के छात्रों सहित चार लाख व्यक्ति बड़े पैमाने पर स्वच्छता अभियान में भाग भी लेंगे। मुख्यमंत्री स्वयं महाग्राम स्वच्छता अभियान की प्रतिदिन की प्रगति रिपोर्ट की भी समीक्षा करेंगे, जो 21 सितम्बर, 2018 से शुरू की जाएगी।

राज्य के विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा महाग्राम में स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा और परिवर्तन योजना के तहत प्रत्येक वरिष्ठ अधिकारी नामित 47 ब्लॉक से कम से कम दो गांवों में स्वच्छता सुनिश्चित करेगें। मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे सभी गांवों व शहरों के नजदीक और आबादी के बाहर पशुओं का गोबर और ठोस कचरे को इकट्ठा करने व उसे गांव से बाहर ले जाने के सभी प्रयास किए जाएं, ताकि गांवों में साफ- सफाई के साथ- साथ स्वच्छता बनी रहे।

इस स्वच्छता अभियान को पूरा करने के लिए पंचायती राज संस्थाओं की निधि का प्रयोग किया जा सकता है और महाग्रामों में स्वच्छता अभियान को चलाने के लिए लोगों की भागीदारी भी सुनिश्चित की जानी चाहिए।

सामान्य स्वच्छता पर विशेष जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गांवों और कस्बों में सड़कों को दैनिक आधार पर साफ किया जाना चाहिए।  राज्य में अस्पतालों, स्कूलों और अन्य संस्थानों की सफाई के लिए विशेष अभियान आयोजित किया जाना चाहिए जिसमें स्कूलों, एनजीओ, एनएसएस, एनसीसी और अन्य स्वैच्छिक संगठनों की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित जाए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 अक्तूबर को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को यादगार बनाने के लिए 15 सितंबर से ‘स्वच्छता ही सेवा अभियान’ की शुरूआत की है।

बता दे कि गत दिनों मुख्यमंत्री मनोहर लाल व राज्य के अन्य मंत्रियों और गणमान्यों द्वारा ‘स्वच्छता ही सेवा अभियान’ की शुरूआत में विभिन्न स्थानों पर सफाई करके भाग लिया गया था, जिससे लोगों में स्वच्छता के प्रति एक संदेश गया है और लोग इस अभियान के साथ जुड़ने लगे हैं। राज्य में स्वच्छता के प्रति लोगों को सजग व जागरूक करने के लिए मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्रियों द्वारा संदेश भी दिए गए हैं।

गांव-गांव स्वच्छता अभियान चलाएगी मनोहर सरकार, चार लाख लोग लेंगे हिस्सा