\u0905\u0902\u092C\u093E\u0932\u093E \u092E\u0947\u0902 13 \u092A\u094D\u0930\u0926\u0930\u094D\u0936\u0928\u0915\u093E\u0930\u0940 \u0915\u093F\u0938\u093E\u0928\u094B\u0902 \u0915\u0947 \u0916\u093F\u0932\u093E\u092B \u0915\u0947\u0938 \u0926\u0930\u094D\u091C, \u091C\u093E\u0928\u093F\u090F \u0915\u094D\u092F\u093E \u0939\u0948 \u092A\u0942\u0930\u093E \u092E\u093E\u092E\u0932\u093E ?

“The world’s most advanced Real Content in Hindi”

  1. Home
  2. राजनीति

अंबाला में 13 प्रदर्शनकारी किसानों के खिलाफ केस दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला ?

Yuva Haryana, 23 December, 2020 हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर के काफिले का रास्ता रोकने के मामले में अब पुलिस ने सख्त कदम उठाया है। अंबाला पुलिस ने 13 नामजद समेत कई किसानों पर हत्या के प्रयास का मुकद्दमा दर्ज किया गया है। किसानों पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने समेत...


अंबाला में 13 प्रदर्शनकारी किसानों के खिलाफ केस दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला ?

Yuva Haryana, 23 December, 2020

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर के काफिले का रास्ता रोकने के मामले में अब पुलिस ने सख्त कदम उठाया है। अंबाला पुलिस ने 13 नामजद समेत कई किसानों पर हत्या के प्रयास का मुकद्दमा दर्ज किया गया है। किसानों पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने समेत 10 धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

अंबाला में 13 प्रदर्शनकारी किसानों के खिलाफ केस दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला ?

थाना अंबाला शहर में सुरक्षा एजेंट गुरजैंट सिंह ने बताया कि 22 दिसंबर को किसान यूनियन व काफी लोग अनाज मंडी अंबाला शहर में इकट्ठे हुए। ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों की ओर से लाउडस्पीकर के जरिए अवगत करवाया गया कि शांति से विरोध जता सकते हैं। लेकिन उपद्रवियों व अन्य लोगों को समझाने के बावजूद भी नई अनाज मंडी से चलकर अग्रसेन चौक पर पहुंच गए।

अंबाला में 13 प्रदर्शनकारी किसानों के खिलाफ केस दर्ज, जानिए क्या है पूरा मामला ?

पुलिस ने समझाने की कोशिश कि कोई गलत कदम ना उठाए इसके बावजूद जलबेहड़ा का बग्गा, धुराली का दारा सिंह, शहर का चाहत चौहान उर्फ नानु, कुर्बानपुर का भूरा, बडौला का जसमीत हूंडल, धुरकड़ा का बाई, बलाना का जसबीर, कौलां का काका, कौलां का जितेंद्र, कौलां का मोंटू, जंडली का रोनी, कौलां का अजय, बाड़ा का जसपाल सिंह व अन्य लोगों की अगुवाई करते हुए नारे लगाए। पुलिस के साथ धक्का मुक्की, जबरदस्ती करके सरकारी ड्यूटी में बाधा पहुंचाई। अग्रसेन चौक पर रास्ता बाधित किया।