Yuva Haryana
कांग्रेस हाईकमान को कैप्टन अजय यादव की सलाह: नए नेताओं को 5 साल तक टिकट व पद न दें
 

 

अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पिछड़ा वर्ग के राष्ट्रीय अध्यक्ष कैप्टन अजय यादव ने कांग्रेस नेतृत्व को ट्वीट कर कहा कि जो कोई भी पार्टी में आता है उसे 5 साल तक कोई पद और टिकट नहीं दिया जाना चाहिए, ताकि वह कांग्रेस को मजबूत करे. कैप्टन ने कुलदीप बिश्नोई का उदाहरण दिया.

 

कैप्टन ने कहा कि कुलदीप बिश्नोई ने अपने पिता के साथ कांग्रेस छोड़ दी और हजकां बनाकर भाजपा से गठबंधन किया. कुछ समय बाद भाजपा से नाता तोड़ लिया और कांग्रेस में शामिल हो गए. वर्ष 2019 में कांग्रेस की विचारधारा के बिना उन्हें कांग्रेस कार्यसमिति का सदस्य बनाया गया, जिन्होंने राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग की, क्यों?

 

कैप्टन ने ट्वीट किया कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस फासीवादी मानसिकता वाले भाजपा से कांग्रेस पार्टी में शामिल होने वाला एक धर्मनिरपेक्ष दल का नेता है और क्षेत्रीय दल से जातिवादी विचारधारा वाले नेता हैं. अगर कांग्रेस में शामिल हों तो 5 साल बिना किसी पद और टिकट के शांत रहें और कांग्रेस को मजबूत करें.

 

बता दें कि कुमारी शैलजा के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद कुलदीप बिश्नोई मुखिया बनने के इच्छुक थे, लेकिन पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अपने समर्थक उदयभान को इस पद पर ताज पहनाया. इसके बाद कुलदीप कांग्रेस आलाकमान से नाराज हो गए. राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस ने अजय माकन को चुनावी मैदान में उतारा है. हरियाणा में अजय माकन, कुलदीप बिश्नोई के क्रॉस वोटिंग और कांग्रेस विधायक के वोट रद्द होने के कारण पार्टी चुनाव हार गई.