\u0926\u093F\u0932 \u0915\u0947 \u092E\u0930\u0940\u091C\u094B\u0902 \u0915\u0947 \u0932\u093F\u090F \u0924\u094B\u0939\u092B\u093E, \u0917\u0941\u0930\u0941\u0917\u094D\u0930\u093E\u092E \u092E\u0947\u0902 \u0915\u0948\u0925 \u0932\u0948\u092C \u092E\u0947\u0902 \u0938\u093F\u0930\u094D\u092B 50 \u0939\u091C\u093E\u0930 \u092E\u0947\u0902 \u092E\u093F\u0932\u0947\u0917\u093E \u0907\u0932\u093E\u091C

“The world’s most advanced Real Content in Hindi”

  1. Home
  2. देश

दिल के मरीजों के लिए तोहफा, गुरुग्राम में कैथ लैब में सिर्फ 50 हजार में मिलेगा इलाज

गुरुग्राम में अब दिल के मरीजों को एंजियोप्लास्टी के लिए महंगे खर्चे से घबराने की जरूरत नहीं है। इसमें अब लाखों रुपए नहीं लगेंगे। शहर के सेक्टर-10 सिविल हॉस्पिटल में कैथ लैब बनाई जा रही है, जिसमें मात्र 50 हजार रुपये में एंजियोप्लास्टी कराई जा सकेगी। ये लैब अगले 15...


दिल के मरीजों के लिए तोहफा, गुरुग्राम में कैथ लैब में सिर्फ 50 हजार में मिलेगा इलाज

गुरुग्राम में अब दिल के मरीजों को एंजियोप्लास्टी के लिए महंगे खर्चे से घबराने की जरूरत नहीं है। इसमें अब लाखों रुपए नहीं लगेंगे।

शहर के सेक्टर-10 सिविल हॉस्पिटल में कैथ लैब बनाई जा रही है, जिसमें मात्र 50 हजार रुपये में एंजियोप्लास्टी कराई जा सकेगी। ये लैब अगले 15 दिनों में शुरू हो जाएगी।

दिल के मरीजों के लिए इस कैथ लैब से काफी आसानी हो जाएगी। वही आर्थिक रूप से कमजोर और EWS मरीजों और राजकीय कर्मचारियों के लिए ये सुविधा एकदम मुफ्त होगी।

दिल के मरीजों के लिए तोहफा, गुरुग्राम में कैथ लैब में सिर्फ 50 हजार में मिलेगा इलाज

योजना को लेकर स्वास्थ्य विभाग और मैडिट्रीना हॉस्पिटल के बीच एमओयू साइन हुआ। साथ ही हॉस्पिटल में आने वाले दिल के मरीजों को सामान्य दरों पर हार्ट की जांच और स्टंट की सुविधाएं मिलेंगी।

केरल के मैडिट्रीना अस्पताल के एमडी प्रताप कुमार ने बताया कि अभी तक इस तरह की सेवा मालद्वीप में संचालित की जा रही हैं।

दिल के मरीजों के लिए तोहफा, गुरुग्राम में कैथ लैब में सिर्फ 50 हजार में मिलेगा इलाज

इसके अलावा केरल के ESIC हॉस्पिटल में इस तरह के करार हुए हैं।
यह कैथ लैब सामान्य दरों पर हॉस्पिटल में संचालित की जाएगी।

वहीं सिविल हॉस्पिटल के सीएमओ डॉ. बीके राजौरा ने बताया कि पीपीपी मॉडल पर किसी भी जिला अस्पातल में तैयार होने वाली ये देश की पहली कैथ लैब होगी।