Yuva Haryana
नए साल में सरकार आपके लिए शुरू करेगी ये खास योजनाएं, ऑनलाइन घर बैठे उठा सकेंगे लाभ, देखिए योजनाओं की पूरी लिस्ट
 

हरियाणा के लोगों के लिए नया साल कई योजनाएं लेकर आया है, बल्कि कई नई शुरुआत भी इस साल होंगी। प्रदेश सरकार ऑनलाइन सेवाओं पर फोकस कर रही है। अब विभिन्न विभागों व बोर्ड-निगमों में ऑनलाइन शुरू की गई नागरिक सेवाओं की संख्या बढ़ाने का फैसला लिया गया है।

आपको बता दें कि प्रदेश में 611 नागरिक सेवाओं को ऑनलाइन करने की तैयारी सरकार कर रही है है। लोग घर बैठे इनका लाभ ले सकेंगे। सरकार की योजना है कि 1200 से अधिक अनियमित कॉलोनियों को नियमित किया जाए। यहां मूलभूत सुविधाएं लोगों को मुहैया करवाई जाएं।

इस बारे में सरकार की ओर से सभी नगर निगमों, नगर परिषदों व नगर पालिकाओं के अधिकारियों से ऐसी कॉलोनियों का ब्योरा मांगा है, जिनमें लोग रह रहे हैं और ये अवैध हैं। हालांकि ये कॉलोनियां सरकार द्वारा तय की गई शर्तों के दायरे में आती हैं। विधानसभा के शीतकालीन सत्र में सरकार ने निकाय क्षेत्रों से बाहर बसी कॉलोनियों में भी विकास कार्यों का खाका तैयार कर लिया है।

यहां बताना जरूरी है कि इस सत्र में निकायों के अधिकार क्षेत्र से बाहर बसी अवैध कॉलोनियों में भी विकास कार्यों के लिए कानून बनाया है। जिसके तहत यहां बिजली-पानी, सीवरेज व सड़क जैसी मूलभूत सुविधाओं को दिया जाएगा। बशर्ते इसके लिए यहां रहने वाले लोगों से शुल्क भी लिया जाएगा।

मंडलायुक्त की अध्यक्षता में पहले इसके लिए कमेटियां बनाई जाएंगी। पेंशन योजनाओं को भी परिवार पहचान-पत्र के साथ लिंक कर दिया है। पीपीपी में रजिस्ट्रेशन के समय उम्र, आय से लेकर तमाम तरह का डाटा दिया जाता है। ऐसे में 60 की उम्र होने के बाद उन बुजुर्गों की खुद-ब-खुद पेंशन शुरू हो जाएगी।

जो सरकार द्वारा तय मापदंडों को पूरा करते होंगे। बीपीएल परिवारों का चयन भी अब आटो-सिस्टम से होगा। जिन परिवारों की सालाना आय 1 लाख 80 हजार रुपये से कम है, सरकार उन्हें खुद ही बीपीएल मानेगी। सभी योजनाओं को सीएम ने हाथों में लिया हुआ है। वे नियमित रूप से इनकी मॉनीटरिंग कर रहे हैं।

इतने हजार युवाओं को मिलेगी नौकरी
सरकारी क्षेत्र में 27 हजार युवाओं को नौकरी दिए जाने की योजना है। हरियाणा लोकसेवा आयोग द्वारा क्लास-वन और टू के 1100 के करीब पदों पर भर्ती शुरू की हुई है। वहीं, क्लास-थ्री और चतुर्थ श्रेणी के करीब 26 हजार पदों पर हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई है।रोडवेज के बेड़े में शामिल होंगी 809 बसें
हरियाणा रोडवेज के बेड़े में भी बसों की संख्या इस साल बढ़कर 4 हजार हो जाएगी। 3200 के लगभग बस वर्तमान में हैं और 809 नई बसें सरकार ने खरीदने के आदेश दे दिए हैं। इनकी सप्लाई शुरू हो चुकी है। वहीं, हरियाणा के प्राइवेट सेक्टर यानी इंडस्ट्री, कंपिनयों, सोसायटी व ट्रस्ट आदि की 75 प्रतिशत नौकरियां स्थानीय युवाओं के लिए आरक्षित होंगी।
आपको बता दें कि इस संबंध में अलग से पहले ही कानून बनाया जा चुका है। इसका नोटिफिकेशन भी जारी हो चुका है और यह कानून 15 जनवरी से राज्य में लागू होगा। इससे प्रदेश के युवाओं को रोजगार के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा।