Yuva Haryana
हरियाणा का बेटा जम्मू कश्मीर में शहीद, जम्मू के अवंतीपुरा में थे तैनात
 

हरियाणा के रोहतक जिले का जवान कैप्टन साहिल वत्स शहीद हो गया है। जिले के गांव डोभ के निवासी कैप्टन साहिल वत्स (26) जम्मू कश्मीर के अवंतीपुरा में तैनात थे, लेकिन माइनस 14 डिग्री में ड्यूटी करते हुए वह शहीद हो गए। उनकी सांसें ह्दय गति रुकने के बाद थम गईं। आज दोपहर 2 बजे उनका पार्थिव शरीर पैतृक गांव डोभ में लाया जाएगा, जहां पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

कैप्टन वत्स के पार्थिव शरीर को आज सेना के विमान से दिल्ली लाया गया है। यहां शव को को गार्ड ऑफ ऑनर देने की तैयारी की जा रही है। इसके बाद पार्थिव शरीर को रोहतक के सेक्टर-चार स्थित उनके वर्तमान निवास पर लाया जाएगा। जहां से दोपहर 2 बजे शव को उनके गांव डोभ ले जाया जाएगा। सेक्टर-चार में उनके माता-पिता काफी समय से रहते हैं। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं आसपास के लोग सुबह से ही सांत्वना देने घर पर पहुंच रहे हैं।

कैप्टन वत्स के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए जिले के जनप्रतिनिधि अपने-अपने गंत्व्य से निकल रहे हैं। पुलिस-प्रशासन गांव डोभ में इसके लिए व्यवस्थाएं बनाने में लग गया है। कैप्टन वत्स के अंतिम संस्कार में आसपास के इलाकों के काफी लोगों के जुटने की उम्मीद है।

शहीद के मौसेरे भाई मेजर पंकज कौशिश ने बताया कि कैप्टन वत्स नए साल पर छुट्टी लेकर घर आए थे। दिसंबर में ही उनका प्रमोशन लेफ्टिनेंट पद से कैप्टन पद के लिए हुआ था। घर से दो जनवरी को वह सेना में वापस लौट गए थे। माता अनीता वत्स व पिता जितेंद्र वत्स से साहिल की शुक्रवार को ही फोन पर बात हुई थी। उन्होंने माता-पिता को बताया था कि प्रमोशन के बाद वह पहले दिन ड्यूटी पर हैं। उसी रात वह शहीद हो गए।