Yuva Haryana
Haryana Weather Alert- हरियाणा में अगले तीन दिन झमाझम बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया पूर्वानुमान
 

Haryana Rain and Weather Forecast CCSHAU Hisar- हरियाणा में किसानों को राहत मिलने की संभावना है। मौसम विभाग ने 5 जनवरी से लेकर 8 जनवरी तक प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक मौसम परिवर्तित हो रहा है।

कृषि मौसम विज्ञान विभाग, चौधरी चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय  हिसार
@03.01.2022
मौसम पूर्वानुमान : हरियाणा राज्य में हवा में बदलाव उत्तर पश्चिम से दक्षिण पूर्व व पूर्वी हो जाने से कल 4 जनवरी को राज्य में दक्षिण व पाश्चिमी क्षेत्रों के कुछ एक स्थानों पर अलसुबह धुँध छाने की संभावना है। परन्तु  इस के बाद 5 जनवरी से मौसमी सिस्टमों  के सक्रिय होने से राज्य के मौसम में बदलाव आने की संभावना है। 

पाश्चिमी विक्षोभ व अरब सागर से आने वाली नमी वाली हवायों तथा राजस्थान के ऊपर एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनने से राज्य  में ज्यादातर क्षेत्रों में 5 जनवरी रात्रि से 9  जनवरी के दौरान  बादलवाई तथा बीच-बीच में गरज चमक व हवायों के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है जिससे इस दौरान दिन के तापमान में गिरावट परन्तु रात्रि तापमान में बढ़ोतरी दर्ज होने की संभावना है ।
डॉ मदन खीचड़ विभागाध्यक्ष
कृषि मौसम विज्ञान विभाग, चौधरी चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार

4 जनवरी तक मजबूत पश्चिमी विक्षोभ के पश्चिमी हिमालय तक पहुंचने की उम्मीद है। यह पाकिस्तान के मध्य भाग और उससे सटे पंजाब और हरियाणा पर चक्रवाती परिसंचरण को प्रेरित करेगा। 4 जनवरी तक पंजाब, राजस्थान और गुजरात के अलग-अलग हिस्सों में बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

5 और 6 जनवरी तक राजस्थान और उत्तरी मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में बारिश होगी। इस दौरान राजस्थान में छिटपुट ओलावृष्टि की संभावना है। मध्य प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों में 7 जनवरी से बारिश कम होने लगेगी।

7 जनवरी को पूर्वी मध्य प्रदेश के छत्तीसगढ़ और विदर्भ के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है। दिन के तापमान में 2-4 डिग्री की गिरावट आएगी। हालांकि, इन राज्यों में न्यूनतम तापमान में 3-4 डिग्री की वृद्धि होगी।[HINDI] सम्पूर्ण भारत का जनवरी 4, 2022 का मौसम पूर्वानुमान
देश भर में बने मौसमी सिस्टम
पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान और अफगानिस्तान के आसपास के हिस्सों पर बना हुआ है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र श्रीलंका के तट से दूर दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दक्षिण पश्चिम राजस्थान पर बना हुआ है।

पिछले 24 घंटों के दौरान देश भर में हुई मौसमी हलचल
पिछले 24 घंटों के दौरान, तमिलनाडु के तटीय इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ छिटपुट भारी बारिश हुई। आंतरिक तमिलनाडु और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश हुई। पंजाब, उत्तर प्रदेश और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में मध्यम से घना कोहरा छाया रहा।

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि
जनवरी के पहले 10 दिनों के दौरान पश्चिमी विक्षोभ की एक श्रृंखला पश्चिमी हिमालय तक पहुंच जाएगी। अगले 24 घंटों के दौरान, जम्मू कश्मीर, गिलगित बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों और उत्तराखंड के अलग-अलग हिस्सों में एक या दो मध्यम बारिश और हिमपात के साथ हल्की बारिश संभव है।

राजस्थान, पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में भी हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। तमिलनाडु के तटीय इलाकों में हल्की बारिश संभव है। उत्तर पश्चिमी भारत का न्यूनतम तापमान 2 से 3 डिग्री तक बढ़ सकता है।