Yuva Haryana
E Sharam Card Registration: ई-श्रमिक पंजीकरण के लिए समयसीमा बढ़ी, जानिये क्या-क्या होंगे फायदे ?
 

E Sharam Card Registration Dates Extended: हरियाणा सरकार ने ई-श्रमिक कार्ड बनाने के लिए 31 दिसम्बर तक चलाए गए ई-श्रम पंजीकरण अभियान के प्रति कामगारों के उत्साह को देखते हुए इसकी अंतिम तिथि को आगामी 15 जनवरी तक बढ़ाया गया है। जिला में असंगठित क्षेत्र के जो श्रमिक पंजीकरण अभियान में रजिस्ट्रेशन करवाने से चूक गए थे। वे उपरोक्त तिथि तक अपना पंजीकरण करवा सकते हैं।

एसडीएम भूपेंद्र सिंह ने बताया कि अभियान के तहत असंगठित कामगारों का राष्ट्रीय स्तर पर डेटा एकत्र करने के लिए पंजीकरण किया जा रहा है। इसके लिए सभी असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले नागरिकों के ई-श्रमिक कार्ड बनाये जा रहे हैं। 

e shramik registration 2021 Apply : ई श्रम कार्ड ऑनलाइन आवेदन UAN Card
E-Shram Card Online Apply 2021 | e shramik registration 2021 online | ई श्रम कार्ड ऑनलाइन आवेदन 2021 | NDUW e shram Card registration | राष्ट्रीय असंगठित कामगार डाटाबेस | ई-श्रम पोर्टल
ई श्रम कार्ड ऑनलाइन आवेदन और डाउनलोड – e shramik registration and download

असंगठित कामगार इस पोर्टल पर या निकटतम सीएससी सेंटर पर जाकर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। पंजीकरण नि:शुल्क है। कामगारों को सीएससी ऑपरेटर सहित किसी तरह की कोई शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है। श्रमिक के पास उसका आधार लिंक मोबाइल नंबर नहीं है तो वह अपने नजदीकी सीएससी सेंटर में बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन के द्वारा रजिस्ट्रेशन करवा सकता है।

ई श्रम कार्ड ऑनलाइन बनाने के लिए सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट https://register.eshram.gov.in पर जाना होगा. इस वेबसाइट पर जाने के बाद Self Registration का ऑप्शन दिखेगा। यहाँ Aadhaar linked mobile number  मांगा जायेगा ये देने के बाद Captcha भरना होगा साथ ही नीचे दो सवाल पूछा जायेगा की Are you a member of? Employees’ Provident Fund Organization (EPFO) और Employees’ State Insurance Corporation (ESIC)। इसका जबाब अगर आप हा में देते है तो आप इस कार्ड को नहीं बनवा सकते है

आधार नंबर और कॅप्टचा कोड देने के बाद सेंड OTP पर क्लिक करना होता है जिसके बाद एक OTP मोबाइल पर आता है जिसको दे कर submit करना होता है जिसके बाद आधार नंबर मांगा जायेगा वो दे कर सबमिट पर क्लिक करना होता है

अब आपके रेजिस्ट्रेड मोबाइल पर OTP आता है जो आधार में जुड़ा होता है ये देने के बाद आधार का सभी जानकारी आटोमेटिक आ जाता है।

ई-श्रम पोर्टल रजिस्ट्रेशन कराने पर दो लाख का बीमा
श्रमिक जन्म तिथि, होम टाउन, मोबाइल नंबर और सामाजिक श्रेणी जैसे अन्य आवश्यक डिटेल भरने के अलावा, अपने आधार कार्ड नंबर और बैंक खाते का डिटेल का उपयोग कर पंजीकरण कर सकते हैं। श्रमिकों को एक ई-श्रम कार्ड जारी किया जाएगा जिसमें 12 अंकों का विशिष्ट नंबर होगा। इसका उद्देश्य सरकार की सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का एकीकरण करना है। इ-श्रम पोर्टल शुरू, रजिस्ट्रेशन कराने पर दो लाख का बीमा केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने गुरुवार को औपचारिक रूप से इ-श्रम पोर्टल का शुभारंभ किया है
ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन का लाभ
पंजीकरण करानेवाले सभी असंगठित कामगारों के लिए सरकार ने दो लाख रुपये के दुर्घटना बीमा को मंजूरी दी है. अगर किसी हादसे में कामगार की मौत होती है, तो दो लाख रुपये और स्थायी विकलांगता की स्थिति में एक लाख रुपये का भुगतान किया जायेगा.

ई-श्रम पोर्टल के अंतर्गत आने वाले कामगार
निर्माण कामगार
प्रवासी कामगार
गिग एवं प्लेटफार्म कामगार
स्ट्रीट वेंडर
घरेलू कामगार 
कृषि कामगार
अन्य असंगठित कामगार
Small and Marginal Farmers
Agricultural laborers
Share croppers
Fishermen
Those engaged in animal husbandry
Beedi rolling
Labelling and packing
building and construction workers
leather workers
weavers
Carpenter
salt workers
workers in brick kilns and stone quarries
workers in saw mills
Midwives,
Domestic workers
Barbers
Vegetable and fruit vendors
News paper vendors
Rikshaw pullers
Auto drivers
Sericulture workers, Carpenters
Tannery workers
Common Services Centres
House Maids
Street Vendors
MNGRGA Workers
ASHA Workers
Milk Pouring Farmers
Migrant Workers
e shramik registration card Eligibility Criteria
नीचे दिए गए मानदंडों को पूरा करने वाला प्रत्येक श्रमिक National Database on Unorganized Workers (NDUW) के तहत ई श्रम कार्ड ऑनलाइन आवेदन पंजीकरण के लिए पात्र है

उम्र 16-59 साल के बीच होनी चाहिए
आयकर दाता नहीं होना चाहिए
ईपीएफओ और ईएसआईसी का सदस्य नहीं होना चाहिए
असंगठित श्रमिक श्रेणियों में काम करना चाहिए
ज्यादा से ज्यादा श्रमिक अपना पंजीकरण कराएं

श्रम राज्य मंत्री ने लोगों से अपील की है कि इस ज्यादा से ज्यादा संख्या में इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराएं ताकि सभी के लिए सरकारी योजनाओं का लाभ सुनिश्चित किया जा सके। ऐसे होगा पंजीयन रजिस्ट्रेशन के लिए आधार नंबर डालते ही वहां के डाटा बेस से कामगार की सभी जानकारियां अपने आप पोर्टल पर सामने दिख जाएंगी। व्यक्ति को अपने बैंक की जानकारी के साथ मोबाइल नंबर समेत दूसरी जरूरी जानकारियां भरनी होंगी।

उन्होंने कहा कि योजना के तहत मनरेगा, मिड डे मील, आशा, आंगनवाड़ी वर्कर, रेहड़ी-फड़ी वाले, दूध बेचने वाले, मछुवारे, प्रवासी मजदूर, दुकानदारों व अन्य असंगठित क्षेत्र के श्रमिक अपना कार्ड बनवा सकते है। यह कार्ड ऐसे सभी क्षेत्रों में काम करने वाले नागरिकों के बन सकते हैं जिनका कहीं ईपीएफ व पीएफ आदि न कटता हो तथा वे आयकर दाता न हो। ऐसे पात्र श्रमिक अपने नजदीकी सीएससी सेंटर पर जाकर 15 जनवरी तक अपना पंजीकरण अवश्य करवा लें।

एसडीएम ने बताया कि ई-श्रमिक कार्ड बनने के बाद उन्हें सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ मिलेगा। कार्डधारक के परिजनों को दुर्घटना में हुई मौत अथवा स्थाई रूप से विकलांग होने पर 2 लाख रुपए तथा आंशिक रूप से विकलांग होने पर एक लाख का अनुदान दिया जाता है।

पंजीकरण के लिए ई-श्रमिक कार्ड बनवाने के लिए कामगार की आयु 16 से 59 वर्ष के बीच होनी चाहिए। कामगार स्वयं भी ई-श्रम डॉट जीओवी डॉट इन पर पंजीकरण कर सकते हैं। इसके अलावा नजदीकी सीएससी सेवा केंद्रों पर भी जाकर मुफ्त में पंजीकरण करवा सकते हैं। 

उन्होंने बताया कि असंगठित कामगारों के ई-श्रमिक कार्ड पूरे भारत में स्वीकार्य होगा। पीएमएसबीवाई के तहत दुर्घटना बीमा कवरेज मिलेगा तथा विभिन्न प्रकार के सामाजिक सुरक्षा लाभों का वितरण ई-श्रमिक कार्ड के द्वारा किया जाएगा। आपदा या महामारी जैसी कठिन परिस्थितियों में केंद्र व राज्य सरकारों से मदद प्राप्त करने में आसानी होगी।