Yuva Haryana
पंचकूला शिक्षा सदन में कोरोना विस्फोट, 250 कर्मचारियों के लिए थे सैंपल; 50 मिले पॉजिटिव
 

हरियाणा में कोरोना की तीसरी लहर पीक पर है। लगातार केस बढ़ते जा रहे हैं। वीरवार को पंचकूला शिक्षा निदेशालय में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सैंपल लिए, तो चौंका देने वाले आंकड़े सामने आए। शिक्षा सदन की 6 मंजिला इमारत में कार्यरत करीब 250 कर्मचारियों के सैंपल लिए गए थे।

c

विशेष बात यह रही कि इनमें से 50 मरीज पॉजिटिव मिले। वीरवार शाम को इनकी रिपोर्ट आई थी। अकेले शिक्षा सदन की दूसरे फ्लोर पर 38 कर्मचारी पॉजिटिव मिल गए। शुक्रवार को जैसे ही इसकी सूचना मिली, सदन में हड़कंप मच गया। शिक्षा सदन में मौजूदा समय में 50 प्रतिशत कर्मचारी ही ड्यूटी पर आ रहे हैं।

बाकी कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम करने के आदेश हैं। एक जनवरी से प्रदेश में सार्वजनिक स्थानों पर आने जाने के लिए वैक्सीनेशन कराना जरूरी है। परंतु शिक्षा सदन के बाहर दोनों गेटों पर किसी भी कर्मचारी के आने जाने पर कोई सर्टिफिकेट चेक नहीं किया जा रहा था। लोग सीधे ही शिक्षा सदन में जा रहे थे।

ऐसे में महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा की गाइडलाइन का पालन नहीं हुआ। पंचकूला में गुरुवार को 162 केस आए थे। शिक्षा निदेशालय ने कोरोना के कारण स्कूलों में 8 जनवरी को ली जाने वाली बुनियाद परीक्षा भी टाल दी है। करीब 40 हजार बच्चों ने परीक्षा देनी थी। शिक्षा सदन में प्रदेश से अध्यापकों का अपने व्यक्तिगत और सरकारी कार्यों को लेकर आना जाना रहता है।

वहीं, वीरवार को गुरुग्राम में 1447 केस, फरीदाबाद में 297, हिसार में 36, सोनीपत में 130, करनाल में 107, पानीपत में 6, पंचकूला में 162, अंबाला में 169, सिरसा में 17, रोहतक में 63, यमुनानगर में 44, भिवानी में 17, कुरुक्षेत्र में 41, महेंद्रगढ़ में 8, जींद में 24, रेवाड़ी में 23, झज्जर 46, फतेहाबाद में 9, कैथल में 15, पलवल में 11, चरखी दादरी में 2, नूंह में 4 केस आए हैं।