Yuva Haryana
जेल जाने से घबराया दुष्‍कर्म का आरोपी, विधवा की थाने में ही भरी मांग, बच्चा भी अपनाया...यह है पूरा मामला
 

झज्जर में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। एक महिला से आरोपी ने पहले दुष्कर्म किया। इसके बाद जेल जाने के डर से आरोपित युवक ने उसे अपनी पत्नी बना लिया। महिला पहले विधवा थी। आरोपी को पुलिस हवालात में डालने की तैयारी कर रही थी।

इससे पहले ऐन वक्त पर पूरा घटनाक्रम ऐसा बदला कि माहौल खुशनुमा हो गया। सलाखें देख आरोपित घबरा गया, जिसने शिकायतकर्ता महिला से शादी करने पर सहमति जता दी। महिला से इस बारे में उसकी रजामंदी पूछी गई तो वह भी घर बसाने के लिए तैयार हो गई।

बस फिर क्या था, थाने के अंदर ही युवक ने महिला का हाथ थामकर उसके साथ जीने-मरने की कसमें खाई और मांग में सिंदूर भरकर उसे अर्धांगिनी बना लिया। खास बात यह रही कि जिस महिला से युवक ने शादी की है वह विधवा थी और उसका एक बच्चा भी था। युवक ने दोनों को स्वीकार कर लिया।

महिला रोहतक की रहने वाली है, जिसने दिसंबर माह में महिला थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें बताया था कि करीब एक साल पहले झज्जर जिले का रहने वाला 22 वर्षीय युवक उसके संपर्क में आया था। उसने युवक को बता दिया था कि वह पहले से ही शादीशुदा है।

हालांकि उसके पति की मौत हो चुकी है। पति की मौत के बाद वह अपने बच्चे के साथ रहती है। आरोप है कि युवक ने उसे बातों में फंसाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। करीब दो-तीन माह पहले युवक ने उससे दूरी बनानी शुरू कर दी। आखिर में महिला ने आरोपित के खिलाफ महिला थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज करा दिया।

मामला दर्ज होने के बाद महिला थाना पुलिस ने जांच शुरू की। जांच के दौरान आरोपित के घर पर भी पुलिस पहुंची, जिसके बाद उसे थाने लाया गया। थाने में पुलिस उसकी कागजी कार्रवाई पूरी कर न्यायिक हिरासत में भेजने की तैयारी कर रही थी, तभी आरोपित ने प्रस्ताव रखा कि वह महिला को अपना जीवनसाथी बनाने के लिए तैयार है।

पुलिस ने महिला से भी उसकी सहमति पूछी। काफी देर तक इसी बात को लेकर जद्दोजहद चलती रही कि वह विधवा महिला से शादी कर लेगा, लेकिन महिला के बच्चे का क्या होगा। महिला बच्चे को छोडऩे के लिए तैयार नहीं हुई। आखिर में युवक ने सहमति जताई कि वह बच्चे को अपनाने के लिए भी तैयार है।

इस दौरान महिला पक्ष के लोगों ने यह भी तर्क रखा कि कभी बाद में युवक शादी से मुकर जाए तो क्या होगा। इसके बाद तय हुआ कि दोनों की कोर्ट मैरिज करा दी जाए। पुलिस की मौजूदगी में ही थाने से दोनों कोर्ट पहुंचे। वहां दोनों की कोर्ट मैरिज कराई गई।