Yuva Haryana
हिसार एयरपोर्ट से दिल्ली एयरपोर्ट तक जाना होगा और आसान, जल्द फाइनल होगा रेल रूट
 
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट हिसार पर विकसित किए जा रहे इंटीग्रेटिड एवियेशन हब से संबंधित कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की. इस मौके पर हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला भी मौजूद थे. सीएम ने कहा कि महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट हिसार (Maharaja Agrasen Airport Hisar) विकसित किए जा रहे इंटीग्रेटिड एविएशन हब से संबंधित कार्यों में तेजी लाई जाए. यह एक इंटरनेशनल लेवल का प्रोजेक्ट है. इससे प्रदेश में विकास को गति मिलेगी.
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट हिसार को विकसित करने में देरी न की जाए और इसके लिए धन को जारी करने में ढिलाई नहीं बरती जानी चाहिए. उन्होंने एयरपोर्ट की बाऊंड्री के निर्माण कार्य व लाईटस लगाने के काम में तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि राज्य सरकार का प्रयास है कि साल 2023 में इस एयरपोर्ट से विमान-सेवा नियमित रूप से आरंभ कर दी जाए.
मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट (IGI Airport Delhi) से महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट हिसार तक रेल कनेक्टिविटी के लिए रूट को जल्द से जल्द फाइनल करने, विमान-सेवा के लिए हिसार से विभिन्न रूट्स तय करने के निर्देश देते हुए कहा कि इस एयरपोर्ट के लिए जलापूर्ति, ड्रेनेज सिस्टम तथा रॉ-वॉटर के स्टोरेज के लिए किए जा रहे कार्यों को जल्द से जल्द पूरा किया जाए.
बैठक में मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि पर्यावरण एवं वन विभाग (Environment and Forest Department) द्वारा इंटीग्रेटिड एवियेशन हब के दूसरे चरण के विकास कार्यों के लिए 23 नवंबर 2020 को क्लीयरेंस मिलने के बाद एयरक्रॉफ्ट पार्किंग के लिए तीन बड़े हैंगर का निर्माण 18 अगस्त 2021 को पूरा हो चुका है. इसके अलावा, निर्माण-स्थल से पुरानी बिल्डिंग्स को तोड़ दिया गया है और वॉटर-चैनलस को शिफ्ट कर दिया गया है.मीटिंग के दौरान सीएम को इस बात की भी जानकारी दी गई है कि करीब सात हजार एक सौ पंद्रह एकड़ जमीन का म्यूटेशन भी नागरिक उड्डïयन विभाग (civil aviation department) के नाम हो चुका है. फिलहाल तक रन-वे, पीटीटी, टैक्सी-वे, एप्रोन आदि का 80 प्रतिशत तथा 33 केवी सब-स्टेशन का निर्माण का काम 70 प्रतिशत तक पूरा कर लिया गया है. मुख्यमंत्री ने इंटीग्रेटिड एवियेशन हब (Integrated Aviation Hub ) से संबंधित कार्यों की सिलसिलेवार समीक्षा की और बाकी के कार्यों को निर्धारित वक्त में पूरा करने के निर्देश दिए.