Yuva Haryana
मौसम में दिखेगा शुष्क, 29 जून तक मानसून आने की संभावना
 
वर्तमान में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ का असर गुरुवार को खत्म हो जाएगा। हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में एक बार फिर से पश्चिमी शुष्क और गर्म हवाओं का प्रभुत्व हो जाएगा। इससे संपूर्ण इलाके में तापमान में बढ़ोतरी होगी। वहीं वातावरण में मौजूद प्रचुर मात्रा में नमी की वजह से उमस और पसीने वाली गर्मी अपने तेवर दिखाएगी। प्रदेश में दिन का तापमान एक बार फिर से 45 डिग्री पार पहुंचने की संभावना है। हालांकि बीच-बीच में आंशिक बादलवाही देखने को मिल सकती है। उधर हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में 29 जून को मानसून आने की प्रबल संभावनाएं बन रही हैं और 1 जुलाई तक हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली मे मानसून की गतिविधियां दर्ज की जाएंगी। बुधवार अलसुबह से ही हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में अधिकतर स्थानों पर मौसम प्रणाली पश्चिमी विक्षोभ के असर देखने को मिला और संपूर्ण इलाके में बादल वाही व प्री मानसून गतिविधियों को दर्ज किया गया।पश्चिमी विक्षोभ की वजह से सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी, जींद, कैथल, कुरुक्षेत्र, करनाल, महेंद्रगढ़, चरखी दादरी, झज्जर, रोहतक, सोनीपत, पानीपत में हल्की से मध्यम बारिश की गतिविधियों को दर्ज किया गया। इस दौरान हरियाणा में अधिकतम तापमान 35 से 41 और न्यूनतम तापमान 19 से 27 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया है। 
प्रदेश में बारिश का आंकड़ा (एमएम में)
दामला केवीके यमुनानगर 26.5
भिवानी 22.8
गुरुग्राम एससीईआरटी 12.0
करनाल 8.6
हिसार 7.0
नूंह 4.5
रोहतक 4.2
अंबाला 2.1
महेंद्रगढ़ 1.5
कौल कैथल 0.5
पांडू पिंडारा जींद 0.5