Yuva Haryana
कुछ ही महीनों में 148 करोड़ लागत से इन स्टेशनों की होगी कायापलट, यात्रियों को मिलेगी हर तरह की सुविधाएं
 

जो भी व्यक्ति अंबाला मंडल रेलवे स्टेशन से सफर करता है उनके लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है। अब रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय सौगात मिलने जा रही है और इसी से एयरपोर्ट  की तर्ज पर रेलवे स्टेशन आधुनिक सुविधाओं से होगा। जिसके बाद रेल मंत्री के आदेश के बाद इस पर काम शुरू कर दिया जाएगा। अब अंबाला मंडल का चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर लोगों को सुविधाएं प्राप्त होंगी और स्टेशन डेवलपमेंट पर 400 करोड रुपए खर्च होंगे।  जिसके बाद अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन का भी कायापलट हो जाएगा अंबाला रेल मंडल रेलवे डेवलपमेंट अथॉरिटी के साथ मिलकर कार्य करेगा जिसके बाद टेंडर होते ही 15 महीनों में रेलवे स्टेशन तैयार करके मंडल प्रबंधन को सौंपना पड़ेगा जिसके बाद टेंडर को लेकर जल्दी प्रक्रिया आरंभ होने वाली है, ताकि जल्द ही यात्रियों को अच्छी सुविधाएं मिल सके।

जब एक बार चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन तैयार होगा उसके बाद रेलवे स्टेशन अंबाला छावनी को तैयार किया जाएगा। जो एयरपोर्ट से ही नजर आ जाएगा और इस पर वाहनों के आवागमन के लिए अलग से कोरिडोर स्थापित किया जाएगा और अन्य सभी सुविधाएं होंगी जो एक पांच सितारा होटल का अनुभव प्राप्त करेंगे। सुरक्षा की बात करी जाए तो यहां पर हाई सोसाइटी सिस्टम लगाया जाएगा। जो चंडीगढ़ और अंबाला के बाद सहारनपुर रेलवे स्टेशन को भी विश्व स्तरीय बनाया जाएगा 14 और 15 जुलाई को सहारनपुर पहुंचे रेल मंत्री अश्विनी ने भी इस स्टेशन को अपग्रेड करने के लिए निर्देश जारी किए थे। अधिकारियों का कहना है कि चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन को अपग्रेड करने में अगस्त महीने में टेंडर की कार्यवाही की जाएगी और इसके बाद सारी व्यवस्था शुरू की जाएगी बताया जा रहा है कि भविष्य की सभी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए इस स्टेशन को बनाया जाएगा और यात्री स्टेशन पर एयरपोर्ट की तरह आधुनिक लांबी, पेड़ लाउंज, फूड कोर्ट, ऑफिसर रिटेल स्पोर्ट की सुविधा भी प्राप्त होगी। और इसमें लिफ्ट और एक्सीलेटर भी लगाए जाएंगे।

सबसे पहले नंबर पर चंडीगढ़ दूसरे नंबर पर अंबाला छावनी और तीसरे नंबर पर सहारनपुर रेलवे स्टेशन की बारी होगी और इसके लिए चंडीगढ़ स्टेशन को अपग्रेड करने से पहले टेंडर की प्रक्रिया तैयार की जा रही है। जो कुछ ही दिनों में फाइनल हो जाएगी। इसके बाद कर रेलवे लैंड डेवलपमेंट अथॉरिटी को दिया जाएगा। जिसके बाद टेंडर की शर्ते के अनुसार ही   15 महीने के अंदर अंदर यह कार्य को पूरा करना होगा। आरएलडी ही अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन को भी अपग्रेड  कराएगी।