Yuva Haryana
जीत का सेहरा बांधने अपने ईष्ट देव के घर पहुंचे परिषद और नगर पालिका के विजेता, कोई पहुंचा खाटू श्याम तो कोई बालाजी धाम
 
नगर निगम चेयर पर्सन और परिषद के चुनाव भिवानी में चालू थे जिसके चलते लोगों ने काफी वोट दिए। चुनाव के दौरान विजेता प्रत्याशी परिणाम आने पर काफी खुश हुए और अपने अपने इष्ट देवता के सामने सर झुकाने पहुंचे। कोई खाटू श्याम तो कोई सालासर तो कोई धार्मिक स्थलों पर दर्शन करने पहुंचे प्रीति के प्रति भवानी प्रताप चौकी चेयर पर्सन बनी है। अपने साथियों के साथ वह दोनों खाटू श्याम दर्शन करने पहुंचे और वहां जाकर उन्होंने जीत के बाद भगवान का आशीर्वाद लिया।विधायक घनश्याम सर्राफ भी खाटू श्याम पहुंचे। इसके अलावा अनेक पार्षद भी खाटू श्याम पहुंचे और जीत के लिए भगवान का आभार जताया। 
नगर परिषद चेयरपर्सन चुनाव में दिग्गज परिवारों, दिग्गज दलों के प्रत्याशियों को मात देने वाले भवानी प्रताप गुरुवार को सोशल मीडिया पर छाए रहे। भवानी प्रताप की पत्नी प्रीति 4305 मतों से जीतकर चेयरपर्सन बनीं है। जबकि भाजपा प्रत्याशी प्रीति हर्षवर्धन मान, कांग्रेस समर्थित मीनू अग्रवाल, आप प्रत्याशी इंदु शर्मा को हार मिलीं। सोशल मीडिया पर भवानी प्रताप के विजयी जुलूस के अलावा जीत की खुशी के फोटो साझा कर समर्थकों संग खुशियां मनाई।
नगर परिषद और नगर पालिका चुनाव के विजेता भाजपा-जजपा प्रत्याशियों को गुरुवार को चंडीगढ़ स्थित सीएम हाउस पर बुलाया गया था। जहां विभिन्न जिलों से उक्त विजेताओं के साथ वहां के विधायक व अन्य बड़े नेता भी पहुंचे। चेयरपर्सन बनीं प्रीति के पति भवानी प्रताप के भी वहां जाने की चर्चाएं थी मगर वे वहां पर न जाकर खाटू श्याम के दरबार पहुंच गए।
भाजपा भाजपा के विजेता जो कि नगर परिषद और नगर पालिका चुनाव के जीते हैं उनको सीएम हाउस बुलाया गया था अलग-अलग जिले से अलग-अलग विजेता जो कि विधायक बने हैं और वहां के विधायक व बड़े नेता भी इस सीएम हाउस पहुंचे। प्रीति जो की विधायक बनी है उनके पति भवानी प्रताप सीएम हाउस की जगह खाटू श्याम के दरबार पहुंचे।
भाजपा-जजपा प्रत्याशियों को गुरुवार को चंडीगढ़ स्थित सीएम हाउस पर बुलाया गया था। वहीं वार्ड 24 का रोमांचक मुकाबला भी लगातार दूसरे दिन खूब चर्चा में रहा। यहां काटे के मुकाबले में आठ बार के पार्षद गोविंदराम उर्फ बिल्लू बादशाह की पुत्रवधू संजू ने महज पांच वोट से जीत दर्ज की। जबकि मीनाक्षी अग्रवाल को हार मिली। मीनाक्षी हार के कारण काफी चर्चा में रहीं। जहां विभिन्न जिलों से उक्त विजेताओं के साथ वहां के विधायक व अन्य बड़े नेता भी पहुंचे। चेयरपर्सन बनीं प्रीति के पति भवानी प्रताप के भी वहां जाने की चर्चाएं थी मगर वे वहां पर न जाकर खाटू श्याम के दरबार पहुंच गए।