Yuva Haryana
बारिश ने बरसाया कहर, कहीं खंभे टूटे तो ट्रांसफार्मर गिरे, हिसार शहर व गांवों में घंटों तक रही बिजली समस्या
 
बारिश के चलते लाेगों को गर्मी से राहत तो मिली। मगर बिजली निगम की व्यवस्था बिगड़ गई। बुधवार रात से ही वीरवार को दिनभर तेज बारिश शुरू रही। बारिश के चलते कहीं खंभे टूट गए तो कहीं पर ट्रांसफार्मर गिर गए। इसके चलते गांवों से लेकर शहर में कई घंटों तक बिजली समस्या रही। शहर में कई जगह पर ट्रांसफार्मर और लाइनाें में फाल्ट हुए है। ऐसे ही अर्बन एस्टेट में ट्रांसफार्मर में फाल्ट होने से आग लग गई। इसके चलते बड़ा हादसा होने से टल गया, क्योंकि उस दौरान पास में गाड़ी भी खड़ी थी।
ग्रामीण में चिड़ौद, रावतखेड़ा और सिघरान तीन गांव में खंभों पर लगे ट्रांसफार्मर गिर पड़े। इस वजह से पांच गांवों की बिजली बाधित रही। इसके अलावा आजाद नगर एरिया में सबसे ज्यादा 25 से 30 खंभे गिर कर टूट गए। यह सभी खंभे बुधवार रात को आई बारिश में गिर गए थे। मगर सुबह से ही दोपहर तक तेज बारिश रही। इस वजह से खंभे नहीं लग पाए। हालांकि, बिजली निगम की टीम भी मुस्तैद थी, पर बारिश में हादसे का डर था।
दोपहर बाद खंभे लगाने व ट्रांसफार्मर लगाने का काम जारी रहा। कई जगहों पर खंभों व ट्रांसफार्मर लगाने का कम पूरा कर दिया गया, पर कुछ जगह देर रात तक चलता रहा। आजाद नगर एरिया में रात तक बिजली सप्लाई सुचारू कर दी गई। वहीं अर्बन एस्टेट एरिया में बुधवार रात को तीन से चार घंटों तक बिजली सप्लाई बाधित रही। रात 11 बजे के बाद बिजली सप्लाई दी गई।
पिछले तीन दिनों से कट लग रहे ज्यादा
हिसार सर्कल में लोड बढ़ने के कारण ट्रांसफार्मर और लाइनों में फाल्ट ज्यादा होने लगे हैं। पिछले तीन दिनों से शहर और ग्रामीण में बिजली संकट की समस्या है। कहीं पर बिजली कट तो कहीं पर फाल्ट हो रहे है। क्योंकि बिजली निगम का इंफ्रास्ट्रक्चर पुराना है और ट्रांसफार्मरों का भी भंडारण कम है। ऐसे में नए ट्रांसफार्मर भी नहीं लगे हैं। उपभोक्ताओं का रोष चरम पर पहुंच गया है।
दो दिन से आधे घंटे का लग रहा अघोषित कट
शहर के सेक्टर जो कि पाश इलाकों में है। वहां पर भी बिजली कट लगते है। दो दिनों से डीएचबीवीएन से रात के समय में आधे घंटे का अघोषित कट लगाने का भी संदेश आ रहा है। रात को भी बिजली निगम कर्मियों का सेक्टर 16-17 में लोगों ने घेराव कर लिया था। जब उपभोक्ता बार-बार डिवीजन में फोन करते हैं, पर कोई जवाब नहीं मिलता।