Yuva Haryana
राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत अंबाला में हुआ राज्य स्तरीय समारोह
 

महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सशक्त नेतृत्व में महिलाओं, युवाओं विशेषकर बच्चों के उत्थान के लिए उठाए जा रहे कदम आज मिसाल बन रहे हैं। राज्यमंत्री बुधवार को अंबाला में राज्य स्तरीय पांचवें राष्ट्रीय पोषण माह समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंची। इस मौके पर सांसद रतनलाल कटारिया, विभाग की निदेशक हेमा शर्मा भी मौजूद रहीं।  


महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा समारोह में विभिन्न व्यंजनों से तैयार की गई प्रदर्शनी का राज्य मंत्री ने अवलोकन किया। पोषण माह के दौरान आमजन को जागरूक करने के लिए विशेषकर महिलाओं को पौष्टिक आहार के बारे जानकारी देने संबधी प्रचार वाहन को भी झंडी दिखाकर रवाना किया।


उन्होंने कहा कि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के कुपोषण मुक्त भारत अभियान में भागीदारी करने के लिए हम सबको मिलकर कार्य करने की आवश्यकता है। प्रधानमंत्री ने राजनीति से लेकर सामाजिक, प्रशासनिक व्यवस्था में आमजन की भागीदारी के साथ सुधार करते हुए नए भारत के निर्माण की नींव रखी है। बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, स्वच्छ भारत मिशन के तहत घर-घर शौचालय पर जोर दिया।


राज्यमंत्री ने कहा कि बच्चों, गर्भवती महिलाओं, दूध पिलाने वाली माताओं के पोषण स्तर में बढोतरी करने के लिए राष्ट्रीय पोषण मिशन के तहत हरियाणा अच्छा काम कर रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन में प्रदेश ने महिलाओं और बच्चों के प्रति अपनी जिम्मेदारी को बेहतर तरीके से निभाया है। विभाग द्वारा आंगनबाड़ी केंद्रों पर बनने वाले खाने में फोर्टिफाइड गेहूं का आटा, फोर्टिफाइड चावल, फोर्टिफाइड तेल, डबल फोर्टिफाइड नमक का उपयोग किया जा रहा है। विभाग के अधिकारियों, आंगनवाड़ी वर्करों, हेल्परों ने लगातार घर-घर पहुंचकर राष्ट्रीय पोषण मिशन में अपने लक्ष्यों को हासिल किया है।
इस मौके पर राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कुपोषण को जड़ से खत्म करने के लिए शपथ भी दिल

वाई व  कुपोषण से सम्बन्धित पुस्तिका का भी विमोचन किया। राज्यमंत्री ने मोटे अनाज से बनी विभिन्न रेसिपी तैयार करने वाली आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को भी सम्मानित किया।