Yuva Haryana
हरियाणा में पुलिस वालो के लिए चलेगा स्पेशल फिटनेस प्रोग्राम, ज्यादा वजन और बढ़ी हुई तोंद वालो का डाटा पहुंचेगा DGP के पास
 

तोंद निकली है या वजन अधिक है ताे ऐसे पुलिस के जवान और अधिकारियों का डाटा मांग लिया गया है। तैनाती गनमैन के रूप में हो, थाने, चौकी या नाके पर ही क्यों न हो, एक-एक पुलिस कर्मचारी की जांच होगी। जिनकी तोंद निकली हुई है उनकी सूची जिला मुख्यालय से होते हुए पुलिस महानिदेशक के कार्यालय में जाएगी। पुलिस महानिदेशक ने सभी पुलिस अधीक्षकों को पत्र लिखकर इस मामले में तत्काल सूचना भेजने को कहा है। जिसके बाद सिरसा पुलिस अधीक्षक ने थाना, चौकियों व पुलिस लाइन से सूचनाएं मांग ली हैं।

व्यायाम घटा तो निकलने लगी तोंद

पुलिस के नियम के अनुसार कर्मचारियों को फिट रहना जरूरी है लेकिन अलग-अलग समय ड्यूटी होने के कारण ज्यादातर पुलिस कर्मचारियों का व्यायाम छूट गया है और वे अभ्यास नहीं कर पा रहे हैं। यही वजह है कि उनकी फिटनेस भी सही नहीं रह रही। किसी की तोंद निकल रही है तो किसी में मोटापा आ रहा है। अब इस मोटापे को घटाने के लिए विभाग ने पहल की है और इसके लिए पहले चरण में 40 आयु वर्ग के कर्मचारियों की सूची मांगी गई है।

लापरवाही मिली तो इंचार्ज पर कार्रवाई

पुलिस अधीक्षक के पत्र में चेतावनी दी गई है कि एक-एक कर्मचारी की सही सूचना भेजी जाए। मोटी तोंद वाले या ज्यादा वजन वाले कर्मचारियों की पहचान इंचार्ज को करनी होगी और यदि इंचार्ज ने लापरवाही बरती तो उसके खिलाफ भी विभाग एक्शन लेगा।

फिटनेस प्रोग्राम चलाएंगे

पुलिस अधीक्षक डा. अर्पित जैन ने कहा कि सिरसा में तीन चरणों में सभी पुलिस कर्मचारियों को फिटनेस प्रोग्राम से जोड़ेंगे। पहले 40 वर्ष आयु वर्ग के कर्मचारियों को शामिल किया गया है। यह सूचना डीजीपी आफिस से मांगी गई है। इसके बाद 40 से 50 और फिर 50 से अधिक आयु वर्ग का डाटा एकत्रित करेंगे। सबको खेल, योग व साइकिलिंग से जोड़ेंगे। फिट रहना ही पुलिस का पहला मूलमंत्र है। उन्होंने कहा कि हर माह इस बारे में बैठक भी करेंगे।