Yuva Haryana
शहरों की तर्ज पर गांवों को भी मॉडल रूप में विकसित करने के लिए रोड मैप तैयार: उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला
 
जींद जिले के ऐतिहासिक और राजनीतिक रूप से सक्रिय गांव कंडेला में प्रदेश के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के स्वागत में विशेष कार्यक्रम रखा गया। कंडेला खाप द्वारा गांव के ऐतिहासिक चबूतरे पर करवाए गए इस अभिनंदन समारोह में आसपास के गांवों से हजारों लोग पहुंचे और डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला का स्वागत किया। जींद-कैथल मार्ग पर स्थित इस गांव का ऐतिहासिक महत्व है और उस संदर्भ में कंडेला खाप का दुष्यंत चौटाला का अभिनंदन करना और उन्हें खाप की तरफ से सम्मानसूचक पगड़ी पहनाना क्षेत्र की एक महत्वपूर्ण राजनीतिक घटना है।
विशेष अभिनंदन समारोह में पहुंचे डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कंडेला खाप का धन्यवाद किया और उनके बीच सरकार की गांवों के लिए चलाई जा रही विशेष योजनाओं का ब्योरा रखा। डिप्टी सीएम ने बताया कि प्रदेश के 14 हजार तालाबों के नवीनीकरण और सौंदर्यकरण का काम डेढ़ वर्ष में पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी तरह प्रदेश भर के तालाबों की रिटर्निंग वॉल बनाने के लिए सरकार ने 800 करोड़ रूपए मंजूर किए हैं। 
Dushyant Chautala
उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार शहरों की तर्ज पर गांवों को भी मॉडल रूप में विकसित करना चाहती है। इसके लिए सरकार द्वारा रोड मैप तैयार किया गया है और प्रत्येक गांव में विभिन्न योजनाओं के तहत कार्य चल रहे है। ग्रामीणों द्वारा रखी मांगों के संदर्भ में उपमुख्यमंत्री ने सम्बंधित विभागों अधिकारियों को फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार कर एस्टीमेट भिजवाने के लिए कहा ताकि उन पर कार्य करवाया जा सके। इनमें कच्ची गली, खेतों का रास्ता, गांव की फिरनी, स्टेडियम में मनरेगा सम्बंधित कार्य, सीएचसी में जरूरी सुविधाएं व अन्य आवश्यक कार्य शामिल थे। उपमुख्यमंत्री ने ग्रामीणों को विश्वास दिलाया कि ग्राम सभा द्वारा प्रस्ताव देने पर कंडेला गांव को जींद तहसील में शामिल कर दिया जाएगा। इसके अलावा ग्राम सभा की लिखित सहमति पर गांव में डिजिटल लाईब्रेरी व कृषि लैब बनवाने का कार्य वे अपने ऐच्छिक कोष से करवाएंगें।
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि गांव, गरीब एवं किसान का विकास सरकार की पहली प्राथमिकता है और इसके लिए पैसों की कमी नहीं रहने दी जाएगी। साथ ही सरकार युवाओं को स्व-रोजगार उपलब्ध करवाने एवं महिलाओं का उत्थान करने के प्रति प्रतिबद्ध है। इसके लिए कौशल विकास वृद्धि केन्द्रों की स्थापना की जा रही है। उन्होंने युवाओं एवं महिलाओं का आह्वान किया कि वे अपनी कार्य कुशलता एवं तकनीकी निपुणता का विकास करें ताकि भविष्य में स्वरोजगार पा सकें।
उपमुख्यमंत्री ने सामाजिक निर्माण में खाप पंचायतों की सराहना करते हुए कहा कि समाज में भाईचारा स्थापित करने में खाप पंचायतों की भूमिका आज भी प्रसांगिक और अक्सर आपसी मसलों एवं विवादों को भी खाप पंचायतों ने आपसी सहमति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में अपनी सूझबूझ तथा विवेक से निपटाने का काम किया है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश की निष्पक्ष एवं निर्णायक खाप पंचायतों में कंडेला खाप का भी विशेष स्थान है। उपमुख्यमंत्री ने सभी खाप पंचायत सदस्यों, प्रबुद्ध नागरिकों एवं सामाजिक संगठनों से प्रदेश में आपसी सहयोग के साथ सामाजिक कार्यो में सकारात्मक योगदान देने का अनुरोध किया।
सर्वजातीय कंडेला खाप द्वारा कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री को किसान की पहचान हल स्मृति चिन्ह, शॉल एवं पगड़ी भेंट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में जजपा के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपप्रधान डा. केसी बांगड, जुलाना के विधायक अमरजीत ढांडा, जिला अध्यक्ष कृष्ण राठी, राष्ट्रीय संगठन सचिव राजेन्द्र लितानी, सर्वजातीय कंडेला खाप के प्रधान ओमप्रकाश कंडेला, आयोजन समिति के सदस्य सुनील कंडेला सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति तथा भारी संख्या में ग्रामीण महिला व पुरूष मौजूद रहे।