Yuva Haryana
सड़क हादसे ने लील लिए एक ही परिवार के तीन सदस्य, मृतक संजीव का पुलिस में भर्ती होने का था सपना
 

चरखी दादरी में हुए सड़क हादसे में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत होने से गांव में मातम फेल गया. इस दुर्घटना में सुमित्रा पत्नी राजेश, भतेरी पत्नी चंदरहास और संजीत पुत्र राजेश की मृत्यु हुई है. इनमें सुमित्रा और संजीत मां बेटा थे जबकि भतेरी और सुमित्रा दोनों बहनें थी. मौत की खबर सुनते ही ग्रामीणों में शोक की लहर दौड़ गई.  दोपहर दो बजे बाद एंबुलेंस से शव गांव पहुंचे. महिलाओं के शवों का पोस्टमार्टम चरखी दादरी करवाया गया जबकि युवक के शव का पोस्टमार्टम रोहतक पीजीआई में हुआ. 

मृतक संजीत के पिता राजेश तो तीनों शव को एक साथ देख कर बेहोश हो गए. जबकि उनकी बहनों को भी ग्रामीणों ने संभाला. पीड़ित परिजनों को ढांढस बंधाने के लिए दिनभर ग्रामीणों और उनके शुभचिंतकों का तांता लगा रहा. चरखी दादरी के अटेला गांव के पास डंपर की कार में टक्कर से कार सवार परिवार मां बेटा सहित तीन लोगों की मौत हुई थी. दो गंभीर रूप से घायल है. मरने वाले तीनों बादली उपमंडल के बुपनिया गांव के रहने वाले थे. बृहस्पतिवार को हुए हादसे के बाद शुक्रवार की दोपहर बाद तीनों शव गांव पहुंचे. 


मृतक संजीव के दोस्तों का कहना है कि संजीव पुलिस में भर्ती होना चाहता था. इसे लेकर प्रतिदिन शारीरिक प्रशिक्षण भी लेता था. हरियाणा पुलिस सहित कई शारीरिक परीक्षा संजीव ने पास की थी. फिलहाल संजीव दिल्ली में परिवहन विभाग में कलस्टर बस पर चालक के तौर पर कार्यरत था.