Yuva Haryana
हरेरा गुरूग्राम में दो नए सदस्यों के शामिल होने के साथ ही कोरम पूरा हुआ
 

हरियाणा रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी गुरुग्राम में दो नए सदस्यों के शामिल होने के साथ ही अथॉरिटी का कोरम पूरा हो गया है। इन दो नए सदस्यों में अशोक सांगवान आईएएस (सेवानिवृत्त) और संजीव कुमार अरोड़ा, चार्टेर्ड एकाउंटेंट शामिल हैं।


करीब एक साल पहले समीर कुमार के सेवानिवृत्त होने के बाद ही एक साल से रेरा अथॉरिटी , अध्यक्ष और एक सदस्य के साथ ही काम कर रही थी। हरियाणा सरकार ने एक उच्च न्यायालय के न्यायाधीश की अध्यक्षता में गठित एक समिति द्वारा बनाए गए एक पैनल की सिफारिशों पर रियल एस्टेट नियामक प्राधिकरण, गुरुग्राम और रियल एस्टेट नियामक प्राधिकरण, पंचकूला के लिए दो-दो सदस्यों को अधिसूचित किया था।


गुरूग्राम रेरा में शामिल किए गए सदस्य श्री अशोक सांगवान को तीन दशकों से अधिक का प्रशासनिक अनुभव है और उन्होंने हरियाणा सरकार में संभागीय आयुक्त, गुरुग्राम सहित विभिन्न पदों पर कार्य किया है। इसी प्रकार, संजीव कुमार अरोड़ा को चार्टर्ड अकाउंटेंट के रूप में लगभग चार दशकों का अनुभव है। रेरा गुरुग्राम में दो सदस्यों को शामिल करने से प्राधिकरण की ताकत चार हो गई है - एक अध्यक्ष और तीन सदस्य।


हाल ही में, हरियाणा सरकार ने रियल एस्टेट नियामक गुरुग्राम और पंचकुला दोनों में सदस्य के एक अतिरिक्त पद को मंजूरी देने का निर्णय लिया। इससे प्राधिकरण के समक्ष लंबित शिकायतों के त्वरित निस्तारण में मदद मिलेगी क्योंकि पिछले एक साल से दो पद खाली पड़े थे। डॉ. के.के. खंडेलवाल, अध्यक्ष, हरियाणा रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी का कहना है कि अब कई बेंचों का गठन किया जाएगा ताकि शिकायतों का निपटारा न केवल त्वरित हो, बल्कि रियल एस्टेट (विनियमन और विकास) अधिनियम में निर्धारित अपेक्षित समय सीमा में भी हो। अभी तक एकल पीठ 80 से 100 मामलों की सुनवाई कर रही थी और 30 से 40 मामले प्रतिदिन निपटाए जा रहे थे जिससे आवंटियों को राहत मिल रही थी।