Yuva Haryana
ऊर्जा मंत्री के दिए आदेश,बिजली के सभी खंभों पर सात फीट तक लगाई जाए पीवीसी
 

हरियाणा में बिजली के लोहे और पत्थर के खंभों पर सात फीट ऊंचाई तक पीवीसी लगाकर लोगों को राहत दी जाएगी। इसके लिए बिजली मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने निगम अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्हें इस संबंध में जल्द ही कार्य शुरू करने के निर्देश दिए हैं। पीवीसी लगाए जाने के बाद बारिश व अन्य दिनों में बिजली के खंभों में करंट नहीं आ सकेगा और लोगों को राहत मिलेगी। 

मंगलवार को सिरसा शहर के रेस्ट हाउस में आयोजित खुले दरबार में बिजली मंत्री ने लोगों की समस्याएं सुनीं और उसी दौरान निपटारा भी किया। खुले दरबार में बिजली मंत्री चौधरी रणजीत सिंह के पास नौकरी, आर्म्स लाइसेंस, गली टूटी होने, लड़ाई-झगड़े सहित अन्य कई तरह की शिकायतें लेकर लोग पहुंच रहे हैं । वहीं, बिजली मंत्री चौधरी ने कहा कि हरियाणा ऐसा प्रदेश है जहां सरकार शहरों के साथ-साथ राज्य के 5 हजार 622 गांवों में 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवा रही है। 

सांकेतिक तस्वीर

उन्होंने कहा कि धान का सीजन चल रहा है, इसे देखते हुए भी हर गांव के खेतों में क्रमवार 8-8 घंटे बिजली सप्लाई की जा रही है। जिन किसानों ने ट्यूबवेल के कनेक्श्न के लिए आवेदन किया था, उन्हें समयबद्ध बिजली कनेक्शन उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। बिजली ओवर लोड की स्थिति होने में ट्रांसफार्मर जल जाने या फिर बिजली आपूर्ति प्रभावित होने जैसी समस्याओं का समाधान त्वरित किया जाता है। 

हर घर तिरंगा अभियान, प्रत्येक देशवासी के लिए गौरव की बात
बिजली मंत्री ने कहा कि हर घर तिरंगा अभियान सभी देशवासियों के लिए गौरव की बात है। प्रदेश में 15 अगस्त तक करीब लाखों झंडे वितरित किए जाएंगे और 13 से 15 अगस्त तक विशेष मुहिम के तहत घर-घर झंडे फहराए जाएंगे। यह अभियान हर देशवासी का अभियान है। इस अभियान में सभी को भागीदारी करनी चाहिए। 

कॉमनवेल्थ गेम में अच्छा प्रदर्शन करेंगे खिलाड़ी
बिजली मंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश में खेलों को विशेष रूप से प्रोत्साहन दिया जा रहा है, जिसकी बदौलत खेलो इंडिया में हरियाणा के खिलाड़ियों ने अपना दमदार प्रदर्शन करते हुए सबसे अधिक मेडल जीते और प्रथम स्थान पर रहा। पिछले कॉमनवेल्थ गेम में भारत के सबसे अधिक मेडल थे तथा उसमें भी हरियाणा प्रदेश अव्वल स्थान पर था। उम्मीद है कि इस बार भी प्रदेश के खिलाड़ी कॉमनवेल्थ गेम में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।