Yuva Haryana
हरियाणा में पेंशनधारियों की रुक गई है पेंशन जानिए क्या है इसकी वजह , कही आपने भी तो नहीं यह गलती
 

 पहचान पत्र के साथ पेंशन जोड़ने के बाद से समाज कल्याण विभाग के लाभार्थियों के लिए फरवरी माह में ही समस्या खड़ी हो गई थी। इस दौरान जिले में लगभग 15 हजार लाभार्थियों की पेंशन रुकी थी। जिसके बाद विभाग ने लोगों को परिवार पहचान पत्र बनवाने के निर्देश दिए थे। इसके बावजूद भी कुछ लाभार्थियों की परिवार पहचान पत्र में त्रुटि के चलते पेंशन से वंचित रहना पड़ा।

अब पांच महीने बीतने के बाद भी जिले में 4476 लाभार्थियों की पेंशन रुकी हुई है। समाज कल्याण विभाग ने लाभार्थियों की पेंशन को शुरू करवाने के लिए परिवार पहचान पत्र में त्रुटियों को ठीक करवाने के लिए नोटिस भी चस्पा किए, ताकि विभाग की तरफ से मिलने वाली पेंशन का लाभ लगातार मिलता रहे। इसके बावजूद भी लाभार्थियों ने परिवार पहचान पत्र को अपडेट नहीं करवाया। इसके चलते अब तक पेंशन रुकी हुई है।

समाज कल्याण विभाग में अब तक बुजुर्ग, विधवा, विकलांग व निराश्रित पेंशन 4476 लाभार्थियों की रुकी हुई है, हालांकि पेंशन कब मिलेगी इसके लिए आए दिन लाभार्थी व उनके परिजन चक्कर काट रहे हैं। 31 मार्च तक जिन लाभार्थियों ने परिवार पहचान पत्र को अपडेट करवाया था। ऐसे लगभग 827 पेंशन धारकों की रुकी हुई पेंशन जुलाई माह में आई है। इसके अलावा अब बाकी की पेंशन कब आएगी और इनमें क्या खामियां काी हैं। इसके लिए विभागीय अधिकारियों के पास भी कोई संतोषजनक जवाब नहीं है।

रुकी हुई 827 लाभार्थियों की जुलाई माह में आई पेंशन

4476 की बाकी समाज कल्याण विभाग की तरफ से मिलने वाला सम्मान भत्ता फरवरी माह में पेंशन और परिवार पहचान पत्र के लिंक होने के बाद रुक गया था। इसके बाद पेंशनधारकों को परिवार पहचान पत्र बनवाने के निर्देश दिए गए। इसके चलते जिन लोगों ने नहीं बनवाई या फिर आईडी में त्रुटि हुई तो उनकी पेंशन रुक गई थी। अब जुलाई महीने में 827 लाभार्थियों की पेंशन आई है और 4476 की अभी भी बाकी है।