Yuva Haryana
बैकवर्ड आयोग की रिपोर्ट मिलते ही होगी पंचायत चुनाव की घोषणा, हरियाणा राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह दी जानकारी
 

हरियाणा राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह ने कहा कि हरियाणा में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव की घोषणा कभी भी हो सकती है। जल्द ही बैकवर्ड आयोग की रिपोर्ट मिलने वाली है और उसके बाद सरकार की ओर से वार्ड वाइज आरक्षण की सूची मिलते ही चुनाव की घोषणा कर दी जाएगी। धनपत सिंह मंगलवार को नारनौल के पीडब्ल्यूडी बीएंडआर रेस्ट हाउस में अधिकारियों की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि राज्य में पर्याप्त मात्रा में ईवीएम मौजूद हैं। जरूरत के अनुसार अन्य राज्यों से ईवीएम मंगवाई जा चुकी है। राज्य में लगभग 75 हजार ईवीएम फिलहाल मौजूद हैं। वही महेंद्रगढ़ जिला में लगभग चार हजार ईवीएम मौजूद है। इन सभी की फर्स्ट लेवल चेकिंग हो चुकी है। उन्होंने बताया कि राज्य में पहले जिला परिषद व पंचायत समिति के चुनाव होंगे।
कौन है ट्विन टावर का मालिक?: आखिर किन लोगों ने लड़ी उसके खिलाफ लड़ाई, यहां जानें ऐसे ही 10 सवालों का जवाब
नोएडा के सेक्टर 93ए में स्थित सुपरटेक ट्विन टावरों को गिराने का काउंट डाउन शुरू हो गया है। अब से महज कुछ घंटो बाद भ्रष्टाचार की नींव पर खड़ीं ये दो गगनचुंबी इमारतें जमींदोज हो जाएंगी।


इसके दो दिन बाद पंच सरपंच के चुनाव होंगे। इसी के अनुसार शेड्यूल जारी किया जाएगा। इस बार सभी बूथों के लिए मतदान की सीक्रेसी बनाए रखने के लिए वोटिंग कंपार्टमेंट बनवा कर भेजे जाएंगे जो फोल्डेबल है। चुनाव के बाद उन्हें जिला में ही सुरक्षित रखा जाएगा ताकि अगले चुनाव में फिर उसी का प्रयोग किया जा सके।

चुनाव को लेकर तैयारियां रखें अधिकारी
पत्रकार वाता से पहले उन्होंने अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने निर्देश दिए कि वे पहले से ही सभी प्रकार की तैयारियां रखें। अपने अपने पोलिंग बूथ को अच्छी तरह से चेक कर ले। पिछला इतिहास देखकर तथा इस बार की संभावनाएं देखकर संवेदनशील तथा अति संवेदनशील बूथ घोषित किए जाएंगे। राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह ने कहा कि अधिकारी आपसी तालमेल रखें तथा अच्छी तरह से प्रत्येक चीज का प्रशिक्षण लें।

अगर किसी बात में थोड़ा सा भी संशय है तो अपने सीनियर से पूछकर काम को आगे बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में चुनाव एक त्यौहार की तरह होता है। ऐसे में अधिकारी इस कार्य को पूरे उत्साह के साथ करें। सभी अधिकारी पंचायती राज एक्ट को अच्छी तरह से पढ़ ले। इस बैठक में उपायुक्त डॉ. जयकृष्ण आभीर, पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण, अतिरिक्त उपायुक्त वैशाली सिंह, एसडीएम नारनौल मनोज कुमार, एसडीएम कनीना सुरेंद्र सिंह के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे