Yuva Haryana
हरियाणा के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को फिर से कराया जाएगा मिड डे मील उपलब्ध, निदेशालय ने किए निर्देश जारी
 
पिछले 2 सालों से कोरोना के चलते विद्यार्थियों को घर जा कर राशन दिया जा रहा था लेकिन हरियाणा में अब दोबारा से स्कूलों के विद्यार्थियों को मिड डे मील उपलब्ध करवाई जाएगी। जिससे उनको काफी खुशी मिलेगी। हरियाणा स्कूल के विद्यार्थियों को 2 साल पहले भी मिड डे मील दी जाती थी। जो कि बच्चों को स्कूल में ही मिलती थी। यह मिड डे मील आठवीं से लेकर पहली तक के बच्चों को उपलब्ध करवाई जाएगी। इसको लेकर निदेशालय ने भी निर्देश जारी कर दिए हैं। जिसके तुरंत बाद ही विद्यार्थियों को मिड डे मील जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों ने देने शुरू कर दिए हैं।
शिक्षा विभाग ने निर्देशों के अनुसार जिन दुकानदारो से इस मिड डे मिल को बनाने के लिए राशन खरीदा जा रहा है उनको पैसे डायरेक्ट इनके खातों में भेजे जाएंगे। 1483 स्कूलों में लगभग हजारों विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण करते है। पिछले दो सालो से कोरोना के चलते विद्यार्थियों को मिड डे मिल की जगह राशन घर पर ही दिया जा रहा था। अब इस नए सत्र में स्थिति सामान्य होने के बाद विद्यार्थियों के लिए मिड डे मील शुरू करने की योजना बनाई थी। 
जून महीने में ग्रीष्मकालीन छुट्टियों के चलते विद्यार्थियों को मिड-डे मील नहीं दिया गया है। एक जुलाई से सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों को मिड-डे मील मिलना शुरू हो जाएगा।इस पर शिक्षकों ने ऐतराज जताया था कि कई दुकानदारों से राशन लिया जाता है जिसके चलते दुकानदारों के अकाउंट नंबर लेना मुश्किल कार्य है। 
इस कारण इस साल नए सत्र की शुरुआत में दो महीने तक दोपहर के समय विद्यार्थियों को मिड-डे मील नहीं परोसा गया। शिक्षकों के ऐतराज के चलते निदेशालय ने दुकानदारों के खाते में राशि डालने के निर्देश वापस ले लिए और अब सरकारी स्कूलों के खाते में राशि जारी की जाएगी। 
मौलिक जिला शिक्षा अधिकारी ने भोजन स्कूलों में भोजन बनाने की सभी योजना बना ली है। निदेशालय द्वारा पत्र जारी किया गया जिसमे उन्होंने बताया की जितने भी विद्यार्थी स्कूल में पढ़ते है उन्हे स्कूल में बना हुआ भोजन ही दिया जाएगा साथ ही इसकी तैयारी भी उन्होंने कर ली है। जिला शिक्षा मौलिक अधिकारी यह है यकीन दिला रहे हैं कि जितना दिखाना स्कूल में बनेगा उनकी योजनाओं में पहले से ही बनानी होगी। अब हरियाणा स्कूल के विद्यार्थियों को सरकार मिड डे मिल उपलब्ध कराएगी।