Yuva Haryana
कुलदीप बिश्नोई भाजपा में जल्द होंगे शामिल , ट्वीट करके दी सारी जानकारी, निकाला जॉइनिंग का बेस्ट मुहूर्त
 

अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करके लिखा है कि वह 4 अगस्त को 10:00 बजे 10 मिनट पर भाजपा के सीनियर नेताओं के साथ पार्टी ज्वाइन कर सकते हैं और इतना ही नहीं इससे पहले भी कई बार उन्होंने भाजपा को ज्वाइन करने के संकेत दिए थे। और उस ट्वीट के नीचे कुलदीप बिश्नोई ने लिखा था कि "घायल तो यहां सब परिंदा है लेकिन जो फिर से उड़े वही जिंदा है"। 


अगर अभी की बात करी जाए तो फिलहाल में कुलदीप बिश्नोई आदमपुर विधानसभा से कांग्रेस के विधायक हैं लेकिन उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा गृह मंत्री अमित शाह, प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात करने से पहले भी ऐसे संकेत दिए थे, कि वह भाजपा को ज्वाइन कर सकते हैं और उन्होंने कांग्रेस छोड़ने का एक बड़ा कारण दिया कि वह मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से नाराज चल रहे हैं और उन्होंने कांग्रेस में सीनियर लीडरशिप द्वारा उपेक्षा करने  मैं फ्री हैंड देने से नाराज हैं। और कुलदीप विश्नोई ने भारतीय जनता पार्टी को ज्वाइन करने से पहले यह भी संकेत दिए थे कि उनका अब जल्द ही वनवास खत्म होने वाला है और वह अब छोटे-मोटे दलों से हटकर बड़े दलों में काम करेंगे। अपनी नाराजगी के चलते कुलदीप बिश्नोई ने यह भी कहा कि कांग्रेस ऐसे व्यक्ति से बाहर नहीं निकल पा रही जो पार्टी की लुटिया डूब आने में लगा है  और मुझे लोगों की पीठ टिकानी थी और मैंने एक ही झटके में उनकी पीठ टीका दी और मैंने लास्ट बॉल पर अब छक्का मारा है। कुलदीप विश्नोई ने बिना किसी का नाम लिए यह भी कहा कि कुछ लोगों को घमंड था।


कुलदीप बिश्नोई में इसी नाराजगी के चलते राज्यसभा में चुनाव के समय कांग्रेस के उम्मीदवार अजय मानक के खिलाफ भी क्रॉस वोटिंग की थी लेकिन जब कुलदीप बिश्नोई को पार्टी नहीं छोड़नी थी लेकिन अब उनको कांग्रेस पार्टी छोड़ने का पूरा मन है। इतना ही नहीं उन्होंने अपने आवास पर लगा कांग्रेस का झंडा भी उतार दिया है। अंत में कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि अब भाजपा में शामिल होने जा रहा हूं लेकिन भाजपा की राह भी आसान नहीं है उन्होंने कहा कि भाजपा में सबसे पहले आदमपुर में प्रत्याशी रहा सोनाली फोगाट से सामना करना है और सोनाली फोगाट पहले से ही कुलदीप बिश्नोई का भाजपा में शामिल होना  अच्छा नहीं लगा था और अगर कुलदीप बिश्नोई अब भाजपा को ज्वाइन भी करते हैं तो उन्हें इस पार्टी में काफी नेताओं की नाराजगी देखनी पड़ेगी। और सोनाली फोगाट पहले ही ऐलान कर चुकी है कि वह अगला विधानसभा चुनाव भी आदमपुर से लड़ेगी। जब से कुलदीप बिश्नोई ने भाजपा में शामिल होने का मन बनाया है तब से प्रदेश की राजनीति में हड़कंप मच गया है और कुलदीप बिश्नोई पहले कांग्रेस की टिकट से ही आदमपुर के विधायक बने थे तो उन्हें भाजपा में शामिल होने से पहले कांग्रेस की  सदस्यता से भी इस्तीफा देना होगा। उन्होंने यह भी कहा कि अब मेरी राह पहले जैसी आसान नहीं है अब मुझे काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा।