Yuva Haryana
दिल्ली में मंकीपॉक्स का मिला मरीज तो हरियाणा हुआ अलर्ट, जाने किस तरह फैलता ये रोग
 

दिल्ली (Delhi) में मंकीपाक्स का मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है। संदिग्ध मरीजों के सैंपल कराए जा रहे हैं। हालांकि अभी किसी भी मरीज में मंकीपाक्स नहीं मिला है। इसके बावजूद विभाग पूरी तरह से अलर्ट है।

स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों व स्टाफ को ट्रेनिंग दे दी गई है। विशेष तौर पर अफ्रीकन देशों से आने वालों पर निगरानी रखी जा रही है। यदि इन देशों से कोई लौटता है, तो उसका हर हाल में सैंपल किया जाएगा।

कोरोना का खतरा अभी पूरी तरह से टला नहीं है। रोजाना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। तीन दिन में कोरोना के मरीजों का आंकड़ा 100 के पार पहुंच चुका है। राहत की बात यह है कि इन मरीजों में अधिकतर होम आइसोलेट हैं। गंभीर लक्षण वाले चार मरीजों को ही अस्पताल में दाखिल कराया गया है, लेकिन जिस तरह से रोजाना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। उससे विभाग की चिंता बढ़ी हुई है। कोरोना के मरीजों के लक्षणों की तरह की मंकीपाक्स के भी लक्षण हैं। ऐसे में संदिग्ध लक्षण लगने पर विभाग की ओर से भी मरीजों को सैंपल कराने की सलाह दी जा रही है।

यह हैं मंकीपाक्स के लक्षण

बुखार, त्वचा पर चकते बनना, सिर दर्द, सूखी खांसी, आंखों व गले में दर्द मंकीपाक्स के लक्षण हैं। जिन लोगों में पहले से कोई अन्य बीमारी है। उन्हें मंकीपाक्स जल्दी चपेट में ले सकता है। इसमें बुजुर्गाें को भी सबसे अधिक खतरा रहता है। यदि किसी में इस तरह के संदिग्ध लक्षण हैं, तो वह सबसे पहले जांच कराए। रिपोर्ट आने तक खुद को आइसोलेट रखे।

जिला निगरानी अधिकारी डा. वागीश गुटैन ने बताया कि मंकीपाक्स को लेकर एडवाइजरी आ गई है। इस संबंध में सभी स्टाफ व चिकित्सकों को जानकारी दी गई है। उनकी ट्रेनिंग भी कराई गई है। अभी तक कोई भी संदिग्ध लक्षणों का मरीज नहीं आया है।