Yuva Haryana
मानसून की पहली बारिश पर हिसार हुआ जलमग्न, जाने ज़मीनी स्तर के क्या है हालत ?
 

हरियाणा प्रदेश में मॉनसून के आगमन पर पहली बारिश से जहां लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली वही दूसरी तरफ जगह-जगह जलमग्न होती सड़कें भी दिखी। इसके अलावा अन्य जिलों में भी मूसलाधार बरसात देखने को मिली और सावन के शुरू होते ही बादल भी छाए रहे ।

वही कुछ कुछ जगह ऐसी है जहां पर अभी भी लोग बरसात के लिए तरस रहे हैं इन इलाकों में जानकारी के मुताबिक ठीक तरह से बरसात अभी भी नहीं हुई। हिसार के बालसमंद क्षेत्र में अभी तक एक बार भी अच्‍छी बारिश इस सत्र में नहीं हुई है। खेत खाली पड़े हैं तो फसलों की बिजाई भी सही से नहीं हो सकी है। वहीं कुछ जिले ऐसे हैं जहां ज्‍यादा बारिश से फसलों पर प्रतिकूल प्रभाव देखने को मिल रहा है। 

पिछले 15 दिनों से लोग बरसात का इंतजार कर रहे थे और जब अब बरसात आई तो लोग जल मग्न की समस्या से निजात पाने का इंतजार कर रहे हैं ।अब त‍क हिसार और करनाल सहित प्रदेश के आधे से अधिक जिलों में सामान्य से भी बारिश का ग्राफ नीचे रहा है। बारिश की तस्वीर का स्पष्ट रुख बताता है कि इस पूरे सीजन में चरखी दादरी, झज्जर, जींद, कैथल, कुरुक्षेत्र, महेंद्रगढ़, रोहतक, सिरसा,  पंचकूला और पानीपत में ही सामान्य से अधिक वर्षा हुई।

लोगों को गर्मी से निजात पाने के लिए बरसात का इंतजार रहता है और फिर सड़कों पर भरे पानी से निजात पाने के लिए सरकार द्वारा सुविधाओं का इंतजार रहता है आम जनता आखिर क्या करें आपका इस विषय पर क्या कहना है अपनी राय जरूर दें.