Yuva Haryana
हरियाणवी कलाकार सपना चौधरी को निम्स यूनिवर्सिटी ने किया डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित
 

अपने डांस से लोगों को दीवाना बनाने वाली मशहूर सिंगर, डांसर और एक्ट्रेस सपना चौधरी को डॉक्टर की उपाधि दी गई है. मंगलवार को निम्स विश्वविद्यालय ने दर्शनशास्त्र में डॉक्टरेट की मानद उपाधि प्रदान की. वह यूनिवर्सिटी के 'फेलिसिटेशन एंड कल्चरल इवेंट' में बतौर मुख्य अतिथि पहुंची थीं. विश्वविद्यालय के अध्यक्ष एवं कुलाधिपति डॉ. बलवीर सिंह (बी.एस.) तोमर ने घोषणा की कि सपना द्वारा भेजे गए प्रत्येक रोगी का निःशुल्क इलाज किया जाएगा. साथ ही अधिकतम 50 छात्रों को फ्री में पढ़ाएंगे.

विश्वविद्यालय पर गर्व है
डॉ. बीएस तोमर ने कहा- वैसे तो हम ज्यादा फिल्में और गाने नहीं देखते हैं, लेकिन सपना चौधरी के गाने और डांस के चर्चे हमेशा सुने हैं. मुश्किलों के बावजूद उन्होंने अपनी मेहनत से यह मुकाम हासिल किया है. इसे देखते हुए एकेडमिक काउंसिलिंग और मैनेजमेंट बोर्ड ने मुझसे बात करने के बाद तय किया कि ऐसे महान कलाकार को 'डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी' की मानक उपाधि से नवाजा जाएगा. इसमें सपना ही नहीं निम्स यूनिवर्सिटी भी गौरवान्वित महसूस कर रही है.

तोमर ने आगे कहा- सपना द्वारा भेजे गए हर मरीज का विश्वविद्यालय मुफ्त में इलाज करेगा. साथ ही उन्हें भेजे गए अधिकतम 50 छात्रों को नि:शुल्क पढ़ाया जाएगा. मेडिकल, डेंटल समेत विश्वविद्यालय में पढ़ाए जाने वाले करीब 400 पाठ्यक्रमों में से किसी एक में प्रवेश दिया जाएगा. यह सपना पर निर्भर करता है. जिसमें वह प्रवेश दिलवाना चाहेगी, वह मिल जाएगा.

हरियाणा के नजफगढ़ में जन्मी सपना ने अपने पिता की मृत्यु के बाद अपने घर का खर्च चलाने के लिए डांस करना शुरू कर दिया था. डांस की वजह से सपना की पढ़ाई बीच में ही रुक गई थी. उसने सिर्फ आठवीं तक पढ़ाई की है. आज सपना चौधरी गर्व से अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकती हैं. इससे पहले डॉ. तोमर राजपाल यादव को प्रोफेसर की उपाधि से नवाज चुके हैं.