Yuva Haryana
हरियाणा के बेटे नीरज चोपड़ा ने फिर रचा इतिहास, एक और जीत दर्ज की
 

हरियाणा के नीरज चोपड़ा ने इतिहास के पन्नों में अपना नाम एक बार फिर जोड़ दिया है। उन्होंने स्विट्जरलैंड के लुसाने में हुए डायमंड लीग में जीत हासिल कर इतिहास रचा है। वह पहले भारतीय हैं जिन्होंने डायमंड लीग जीती है। 

नीरज ने इसके साथ ही सात और आठ सितंबर को ज्यूरिख में होने वाले डायमंड लीग के लिए भी क्वालीफाई किया है।
आपको बता दे की चोपड़ा ने 89.08 मीटर के पहले थ्रो में जीत दर्ज की है। इसके साथ ही वह डायमंड लीग मीटिंग खिताब जीतने वाले पहले भारतीय बने।
 वहीं, जैकब वाडलेज 84.56 मीटर थ्रो के साथ दूसरे स्थान पर रहे। ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा जर्मनी में अपनी रिकवरी पूरी करने के बाद एक्शन में लौट आए। जुलाई के अंत में ओरेगॉन में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के दौरान नीरज की कमर में चोट लग गई थी। नतीजतन, उन्हें बर्मिंघम में CWG 2022 को छोड़ना पड़ा था।
प्रदेश के नीरज चोपड़ा दो बार अपना खुद का रिकॉर्ड तोड़ा था और स्टॉकहोम डायमंड लीग में 89.94 मीटर का नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड दर्ज किया। स्टॉकहोम में चोपड़ा के दूसरे स्थान पर रहने के कारण उन्हें ज्यूरिख में छह-एथलीट डायमंड लीग ग्रैंड फाइनल के लिए भी विवाद में रखा गया, जो अगले महीने आयोजित किया जाएगा।
पूरे देश को नीरज चोपड़ा से उम्मीद है और उन पर गर्व भी है ।