Yuva Haryana
राष्ट्र मंडल खेलो में हरियाणा की बेटियां जमाएंगी अपनी धाक, प्रदेश के 43 खिलाड़ियों में से 26 बेटियां
 

राष्ट्रमंडल खेलों का बिगुल 28 जुलाई की रात को बज जाएगा। राष्ट्रमंडल खेलों में इस बार बेटों से ज्यादा बेटियां प्रदेश की झोली में ज्यादा पदक डालने के लिए बर्मिंघम रवाना हो रही हैं। प्रदेश के 43 खिलाड़ियों में 26 बेटियों ने बर्मिंघम का टिकट कटाया है। इनमें अकेले हॉकी में प्रदेश की नौ महिला खिलाड़ी देश को पदक दिलाने को जद्दोजहद करेंगी तो पांच महिला पहलवान भी अपनी धाक जमाने को पूरी तरह से तैयार हैं।

हरियाणा की छोरियां राष्ट्रमंडल में नया रिकॉर्ड कायम करने को लालायित हैं। महिला हॉकी टीम में प्रदेश की नौ बेटियां देश का प्रतिनिधित्व करने जा रही हैं। इनमें नेहा गोयल, सविता पूनिया, मोनिका, शर्मिला, उदिता, निशा, ज्योति, नवजोत व नवनीत सभी खिलाड़ी अपने शानदार प्रदर्शन के बलबूते देश को जीत दिलाने की क्षमता रखती हैं।वहीं कुश्ती में प्रदेश की पांच पहलवान इस बार अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन कर सोना जीतने को तैयार हैं। विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, अंशु मलिक, पूजा गहलावत व पूजा सिहाग फार्म में हैं।

विनेश व साक्षी के पास अपना रुतबा बनाए रखने का अच्छा मौका है। इसके साथ ही कुश्ती में भी पांच पहलवान अपना दमखम दिखाकर देश की झोली को पदकों से भरने के लिए जमकर पसीना बहा रही हैं। इसके साथ ही एथलीट सीमा पूनिया, शिल्पा रानी, मनप्रीत कौर अपने बेहतर प्रदर्शन से देश को पदक दिलाएंगी। सीमा जहां डिस्कस थ्रो, शिल्पा भाला फेंक व मनप्रीत शॉट पुट में शानदार तैयारी करके गई हैं। इसके साथ ही मुक्केबाज नीतू और जैसमीन भी अपने मुक्कों के दम पर प्रदेश को पदक दिलाएंगी। क्रिकेटर शेफाली वर्मा, जूडो खिलाड़ी सूचिका तरियाल, साइकिलिंग में मीनाक्षी व मयूरी भी पदक की प्रबल दावेदार है।