Yuva Haryana
हरियाणा शिक्षा निदेशालय के आदेश, प्रदेश के सभी सरकारी स्कूलों में लगेगी योग की क्लास
 

हरियाणा के सरकारी स्कूलों में नए शिक्षा सत्र 2022-23 में दिन की शुरुआत योग से की जाएगी। यह फैसला हरियाणा के शिक्षा निदेशालय द्वारा लिया गया है।  बता दे की यह आदेश इस लिए दिए गए हो।  क्योंकि प्रदेश में कोरोना महामारी के प्रकोप से बचने के लिए सरकारी स्कूल में योग शिक्षा दी जायेगी और प्रतिदिन प्रार्थना सभा में योग करवाया जाएगा। जिससे विद्यार्थियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सकें। 

इसको लेकर राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) गुरुग्राम ने योग का पाठ्यक्रम तैयार करने के बाद शिक्षा निदेशालय ने अब पहली से 10वीं कक्षा तक पाठ्यक्रम में योग को अनिवार्य विषय के तौर पर शामिल कर लिया है।

डिप्टी डीईओ संतोष शर्मा ने बताया कि सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना को गति प्रदान करते हुए शिक्षा निदेशालय ने मई माह से प्रत्येक माह के प्रथम शनिवार को योग प्रशिक्षण दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। इसके तहत अब स्कूलों में रोजाना प्रार्थना सभा में 30 मिनट तक विद्यार्थियों से योग क्रियाएं करवाई जाएंगी और महीने के प्रथम शनिवार को योग का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इससे विद्यार्थियों में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा मिलेगा।

सभी स्कूलों में कार्यरत पीटीआइ, डीपीई व दूसरे योग शिक्षक याेग क्रियाओं का प्रशिक्षण देंगे। इसके साथ ही स्कूल में प्रतिदिन प्रार्थना सभा में विद्यार्थियों को 30 मिनट तक योग क्रियाएं करवाई जाएंगी।

 कुरुक्षेत्र के डीईओ अरुण आश्री का कहना है कि एससीईआरटी गुरुग्राम की ओर से स्कूलों में शिक्षा सत्र 2022-23 में विद्यार्थियों को योग शिक्षा देने का निर्णय लिया है। अब रोजाना सभी स्कूलों में प्रार्थना सभा में योग कराया जाएगा।