Yuva Haryana
घाटे से उभरने में लगा एचएसवीपी: इस साल 4 जिलों में मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन देने, 22 नए सेक्टर काटने समेत 15 हजार करोड़ कमाने का लक्ष्य
 

हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण इन दिनों घाटे से उभरने में लगा हुआ है. हुड्डा के नाम से जाने जाने वाले एचएसवीपी ने इस वर्ष के लिए करीब 15 हजार करोड़ रुपए की आमदनी करने का लक्ष्य रखा है. वहीं पिछले साल केवल ई ऑक्शन से ही 11 हजार करोड़ रुपए की कमाई की थी. इसके बावजूद भी एचएसवीपी पर 50 हजार करोड़ रुपए का कर्ज चढ़ा हुआ है. यह लगातार घाटे से उभरने की कोशिश में है 

अब इससे उभरने के लिए प्रदेश के 22 जिलों में 22 सेक्टर काटने की तैयारी है. इसके अतिरिक्त पंचकुला, चरखी दादरी, फतेहाबाद और पलवल में 4 मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन भी देने की योजना है. इसके लिए कुल 50 एकड़ जमीन दी जाएगी. वहीं भिवानी, रेवाड़ी और सिरसा में हॉस्टल भी बनाए जाएंगे. 

इन दिनों सेक्टर में प्लाट लेना लोगों के लिए सपने जैसा लगने लगा है. कॉलोनाइजर और प्रॉपर्टी डीलर ऊंचे ऊंचे दामों में प्लाट दे रहे हैं जिनके दामों में बहुत अंतर है. बता दें कि हिसार और गुरुग्राम जोन में रिहायशी और कमर्शियल प्रॉपर्टी की ई ऑक्शन 10 व 11 मई को होगी. लोगों की सुविधा का ध्यान रखते हुए एचएसवीपी द्वारा शुरू की गई ऑनलाइन सुविधाओं में 13 और सुविधाएं जोड़ी जाएंगी. इससे अब लोगों को ई ऑक्शन आदि कराने के लिए कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे.