Yuva Haryana
रोहतक में आप के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद का ड्रामा, बुलडोजर पर सवार होकर हाथ में फरसा लेकर पहुंचे
 

आम आदमी पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद द्वारा शनिवार को रोहतक में हाई वोल्टेज ड्रामा किया गया. दरअसल रोहतक के पहरावर गांव में गौड़ ब्राह्मण प्रचारिणी सभा को 2009 में 16 एकड़ जमीन लीज पर दी गई थी. यहां लगे नगर निगम का बोर्ड उखाड़ने के मामले को लेकर दिनभर माहौल गरम रहा. पुलिस के नोटिस पर नवीन जयहिंद शनिवार को शिवाजी कॉलोनी थाने में बुलडोजर पर सवार होकर पहुंच गए. यहां उन्होंने नगर निगम का बोर्ड उखाड़ दिया. 

नवीन जयहिंद ने अपने बयान में कहा कि यह जमीन ब्राह्मण समाज की है, जिस पर लगा निगम का बोर्ड उसने उखाड़ा है. इसके लिए वे जेल जाने के लिए तैयार हैं, लेकिन जमीन नहीं देंगे. उधर, थाना प्रभारी का कहना है कि नवीन जयहिंद को जांच में शामिल करने का नोटिस भेजा था. उनके बयान दर्ज किए गए हैं.  तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी. 

शनिवार दोपहर को नवीन जयहिंद बुलडोजर पर सवार होकर हाथ में फरसा लेकर शिवाजी कॉलोनी थाने में पहुंचे थे. साथ में उनके दर्जनों समर्थक भी थे. जयहिंद साथ में जमीन से जुड़े कागजात लेकर पहुंचे. मीडिया के सामने जयहिंद ने कहा कि सरकार जमीन का विकास शुल्क मांग रही है, जबकि वहां कोई विकास नहीं हुआ. इसके बाद उन्होंने जांच अधिकारी के सामने बयान दर्ज करवाए और वापस आ गए. 

 जयहिंद का कहना है कि 22 मई को पहरावर गांव की जमीन पर परशुराम जयंती मनाएंगे. यह जमीन ब्राह्मण समाज की है. अगर नगर निगम 100 बार बोर्ड लगाएगा तो उतनी ही बार उखाड़ेंगे. शिवाजी कॉलोनी के थाना प्रभारी इंस्पेक्टर शमशेर सिंह ने बताया कि पहरावर गांव की जमीन को लेकर नगर निगम के एलओ ने केस दर्ज कराया था. नवीन जयहिंद को जांच में शामिल होने के लिए बुलाया था. उनके बयान दर्ज कर भेज दिया गया है. अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है.