Yuva Haryana
कंट्रोल रूम से अपराध पर लगेगी लगाम, पुलिस को मिलेगी मदद - दुष्यंत चौटाला
 

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने उचाना सिविल लाइन थाना में प्रदेशभर में तहसील स्तर पर उच्च गुणवत्ता एवं क्षमता युक्त सीसीटीवी कंट्रोल रूम का उद्घाटन किया। यह कंट्रोल रूम करीब 35 लाख रूपए की लागत से तैयार हुआ है। इसके अंतर्गत उचाना शहर में 21 लोकेशनों को 80 सीसीटीवी कैमरों द्वारा कवर किया जाएगा। 

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सीसीटीवी कैमरों का कंट्रोल रूम स्थापित होने से उचाना शहर के साथ-साथ आसपास के क्षेत्रों में सुरक्षा का माहौल बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि यह कंट्रोल रूम सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस के लिए तीसरी आंख का काम करेगा और सीसीटीवी कैमरों के लगने से शहर की प्रत्येक मुख्य कॉलोनियों और चौराहों पर हर वक्त पुलिस की चौकसी व निगरानी रहेगी। डिप्टी सीएम ने कहा कि इन कैमरों के लगने से शहर में लूटपाट, चोरी जैसी अन्य आपराधिक वारदातों पर अंकुश लगाने में पुलिस विभाग को अतिरिक्त सहयोग मिलेगा। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि इन कैमरों में हाईवे पर चलने वाले प्रतिदिन एक लाख वाहनों की कवरेज की क्षमता है। इतना ही नहीं तेज गति से चल रहे वाहन की भी नम्बर प्लेट तथा वाहनों के अन्दर बैठे व्यक्तियों की कवरेज हो सकेगी। उन्होंने कहा कि उचाना के अलावा आसपास के क्षेत्रों में भी गठित होने वाली आपराधिक वारदातों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र बिजरानिया ने कहा कि आज के युग में इस तरह की आधुनिक तकनीकी के उपयोग की अत्यंत आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी कैमरे अपराधी को ढूंढने में सहायक सिद्ध होंगे। इस मौके पर उपायुक्त डा. मनोज कुमार, एसडीएम उचाना राजेश खोथ, जुलाना के विधायक अमरजीत ढांडा, जजपा के जिला प्रधान कृष्ण राठी व पुलिस विभाग के अनेक अधिकारी उपस्थित रहे।*- दाड़न खाप ने किया डिप्टी सीएम का सम्मान, लाइब्रेरी-कोचिंग सैंटर के लिए 51 लाख मंजूर*

*- आधुनिक शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में योगदान के लिए भी आगे आएं खाप पंचायतें – डिप्टी सीएम*
*- आधुनिक युग में खापों का महत्व और बढ़ा - डिप्टी सीएम*

*जींद/चंडीगढ़, 5 सितम्बर।* आज के आधुनिक युग में खापों महत्व और बढ़ा है। खाप प्रतिनिधियों को सामाजिक सरोकार से जुड़े कार्य, विशेषकर शिक्षा के प्रचार में भी विशेष भूमिका निभानी चाहिए। ये विचार हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जींद में सर्वजातीय दाड़न खाप के चबूतरे पालवां गांव में आयोजित सम्मान समारोह में व्यक्त किए। उपमुख्यमंत्री ने खाप प्रतिनिधियों की मांग पर ई-लाइब्रेरी कम कोचिंग सेंटर की स्थापना के लिए अपने स्वैच्छिक कोष से 51 लाख रूपए देने की घोषणा की। उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों से लाइब्रेरी एवं कोचिंग सैंटर बनाने के लिए जमीन उपलब्ध करवाने का आग्रह किया। 

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि खाप पंचायतों का मुख्य कार्य सामाजिक ताने-बाने का जोड़ना, गरीबों का उत्थान तथा शिक्षा एवं स्वास्थ्य का प्रसार होना चाहिए, जो आज के परिवेश में अत्यंत जरूरी है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में खाप प्रतिनिधियों द्वारा बच्चों, विशेषकर लड़कियों की शिक्षा के प्रति जन जागरण किया जाना चाहिए। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि बेहतर कोचिंग, ट्रेनिंग व अन्य आवश्यक संसाधनों के अभाव की वजह से ग्रामीण इलाके का होनहार बच्चा भी प्रतियोगिता में पिछड़ जाता है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में खाप प्रतिनिधियों एवं युवा कल्बों में बच्चों के लिए कोचिंग का संस्थागत ढांचा बनाने के लिए प्रयास करना चाहिए। डिप्टी सीएम ने कहा कि गांव-गांव में शिक्षा प्रसार समितियों का स्थानीय लोगों द्वारा गठन किया जाना चाहिए और इन समितियों में बच्चों को बेहतर कोचिंग मुहैया करवाने में सेवानिवृत्त कर्मियों विशेषकर प्राध्यापक एवं अध्यापकों का सहयोग लिया जाना चाहिए। समारोह में खाप प्रतिनिधियों द्वारा उपमुख्यमंत्री को पगड़ी पहनाकर गर्मजोशी से स्वागत किया गया।

जुलाना के विधायक अमरजीत ढांडा ने कहा कि उपमुख्यमंत्री के प्रयासों से जींद जिला में विकास कार्यो की गति में तेजी आई है। उन्होंने कहा कि इसके अंतर्गत जुलाना में भी 200 करोड़ रूपए से ज्यादा के विकास कार्य सम्पन्न हुए है। ढांडा ने कहा कि वर्तमान की बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार ग्रामीण विकास के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में कारगर कदम उठाए जा रहे है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में 50 प्रतिशत महिलाओं के आरक्षण का प्रावधान इसके जीते जागते सबूत है। इस मौके पर जेजेपी जिला प्रधान कृष्ण राठी, पांच खापों के मुखिया, बिनैण खाप के प्रवक्ता रघुबीर नैन का भी दाड़न खाप ने स्वागत किया।