Yuva Haryana
झूठ फैलाना कांग्रेस की पुरानी आदत, झूठी ज्वाइनिंग पर माफी मांगे दीपेंद्र हुड्डा – दिग्विजय चौटाला
 

जननायक जनता पार्टी के प्रधान महासचिव दिग्विजय चौटाला ने झूठी ज्वाइनिंग करवाने पर कांग्रेस की कड़ी आलोचना की है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने दिल्ली में रमेश साई एडवोकेट को इनसो अध्यक्ष बताकर अपनी पार्टी में ज्वाइन करवाया हैं जो कि सरासर झूठ है क्योंकि रमेश साई का कभी इनसो से कोई वास्ता नहीं रहा।

उन्होंने कहा कि  झूठ को बड़ा प्रोजेक्ट करके दिखाना राहुल गांधी और उनकी टीम की पुरानी आदत है। दिग्विजय चौटाला ने चुनौती दी कि या तो दीपेंद्र हुड्डा साबित करके दिखाएं कि रमेश साई इनसो से जुड़े रहे हैं या फिर वे जनता को भ्रमित करने के लिए माफी मांगे। उन्होंने यह भी कहा कि दीपेंद्र हुड्डा को इनसो का फोबिया हो चुका है। दिग्विजय ने कहा कि जेजेपी और इनसो के सिपाहियों को तोड़ना असंभव समान है।

वे वीरवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से रूबरू थे। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि आगामी चंडीगढ़ में होने वाले छात्र संघ चुनाव को लेकर इनसो पूरी तरह से तैयार है और इन चुनाव में इनसो इतिहास रचेगी। उन्होंने कहा कि पीयू अध्यक्ष पद और कॉलेजों में इनसो चुनाव लड़ेगी और अपना झंडा बुलंद करेगी।

इनेलो नेता अभय चौटाला के एक बयान पर दिग्विजय चौटाला ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जननायक चौ. देवीलाल किसी एक पार्टी के नहीं हो सकते, वे  समूचे हिंदुस्तान के नेता हैं। उन्होंने कहा कि 25 सितंबर को देशभर में जननायक चौधरी देवीलाल की जयंती मनाई जानी चाहिए और हम इसकी सराहना करते हैं।

दिग्विजय ने कहा कि अगर कोई चौधरी देवीलाल की जयंती पर माल्यार्पण या फल वितरण करे तो अभय चौटाला को इसमें क्या एतराज हैं?  उन्होंने कहा कि इनेलो चौधरी देवीलाल की विचारधारा को अपने तक सीमित रखकर उसे फैलना नहीं देना चाहती है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अभय चौटाला के ऐसे बयान हास्यापद है और लोग अभय चौटाला को सीरियस नहीं लेते है। उन्होंने यह भी कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला हमारे आदरणीय नेता हैं।

उन्होंने कहा कि किसी प्लेटफॉर्म पर चौटाला साहब के सामने रैली की तुलना करवाना हमारे सिद्धांतों में नहीं है। जेजेपी-इनेलो के एक होने के सवाल पर दिग्विजय चौटाला ने कहा कि  इनेलो जब कोई रैली करती है तो ऐसा शिगूफा छोड़ देती है। उन्होंने कहा कि अभय चौटाला के ऐसे बयानों के कारण आज इनेलो गर्त में है। दिग्विजय चौटाला ने यह भी कहा कि इनेलो से हमें निष्कासित किया गया था। जेजेपी शून्य से 18 प्रतिशत वोट तक पहुंची इसीलिए अभय चौटाला को हर वक्त दुष्यंत चौटाला ही नज़र आते हैं।

तीसरे मोर्चे के सवाल पर दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अगर ऐसा संभव है तो लोकसभा चुनाव का इंतजार नहीं करना चाहिए। उन्होंने चुनौती देते हुए कहा कि किसी बड़े टेस्ट से पहले इनेलो और कांग्रेस समेत अन्य दलों को मिलकर आदमपुर उपचुनाव लड़कर मॉक टेस्ट कर लेना चाहिए, सब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।

दिग्विजय चौटाला ने कहा कि ओपी चौटाला और अजय चौटाला को जेल भिजवाने की गुनेहगार कांग्रेस को आजकल इनेलो स्नेह से देख रही हैं। दिग्विजय चौटाला ने आगामी पंचायत चुनाव को लेकर कहा कि शुक्रवार को जेजेपी की चंडीगढ़ में बैठक होगी और उसमें चुनाव को लेकर विचार-विमर्श किया जाएगा।

बुढ़ापा पेंशन के सवाल पर दिग्विजय चौटाला ने कहा कि बुढ़ापा पेंशन पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने वर्ष 2012 में दो लाख रूपए की आय की शर्त लगाई और इसको लेकर भूपेंद्र हुड्डा को जवाब देना चाहिए। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि आय की शर्त 5 लाख, 7 लाख या 10 लाख रुपए तक होनी चाहिए और इसको लेकर हम प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि किसी बुजुर्ग की बुढ़ापा पेन्शन को कटने नहीं दिया जाएगा।