Yuva Haryana
फर्जीवाड़ा रोकने के लिए बदली गई ओएमआर सीट, आंसर लिखने से पहले जान ले ये बदलाव
 
हरियाणा सिविल सर्विस (एचसीएस) और संबद्ध सेवाओं (अलाइड सर्विस) की प्रारंभिक परीक्षा आज होगी। परीक्षा देने की लगभग सभी चीज़ें सामान्य हर साल की भांति इस साल भी होगी लेकिन आंसर शीट ने इस साल कुछ बदलाव किया गए हैं जिसका जानना परीक्षार्थियों के लिए अनिवार्य है ।
यूं तो हर एक उत्तर के 4 सर्किल होते हैं लेकिन अब से आंसर बुक में 5 वा सर्किल भी बना दिया गया है । इस बदलाव से प्रभाव ये है की आपको उत्तर देना ही देना है यदि आपको सवाल का जवाब नहीं आता तो आपको 5 वें सर्किल पर निशान लगाना होगा।
जानकारी के मुताबिकसही जवाब के लिए चार में से कोई एक सर्किल भरना होगा। अगर सवाल का जवाब नहीं देना चाहते तो पांचवां सर्किल “#” भरना अनिवार्य है।
आखिर ये फैसला लिया क्यों गया ?
फर्जीवाड़ा रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। इससे पहले एचसीएस प्रारंभिक की लिखित परीक्षा पिछले साल 12 सितंबर को हुई थी, जिसे हरियाणा लोक सेवा आयोग के उप सचिव अनिल नागर के तीन करोड़ रुपये के साथ पकड़े जाने के बाद रद कर दिया गया था।पूछताछ में नागर के साथ ही अन्य आरोपितों ने डेंटल सर्जन सहित अन्य भर्तियों में परीक्षा के बाद ओएमआर सीट में बदलाव कर चहेतों के चयन की बात मानी थी। गिरोह के सदस्य परीक्षा से पहले ही आवेदकों को सचेत कर देते थे कि उन्हें चारों सर्किल खाली छोड़ने हैं जिसे बाद में भरवा लिया जाएगा।यदि कोई अभ्यर्थी फिर भी इन गोलों को नहीं भरता है तो उसकी कापी को निरस्त कर दिया जाएगा।
वहीं, दो पालियों में होने परीक्षा को फूलप्रूफ बनाने के लिए सरकार ने पूरे इंतजाम किए हैं। शनिवार को मुख्य सचिव संजीव कौशल और डीजीपी पीके अग्रवाल ने उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों से बात कर परीक्षा की तैयारियों का जायजा लिया।