Yuva Haryana
बजरंग पुनिया ने कहा- दोहराऊंगा इतिहास, सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर लाऊंगा सोना
 

हरियाणा प्रदेश ने देश को अनगिनत खिलाड़ी देकर अपनी एक अलग पहचान बना ली है ।हर साल हरियाणा के छोरे विश्व स्तरीय प्रतियोगिताओं में लट्ठ गाढ़ रहे हैं । ऐसे में नजर अब कमान वेल्थ खेलों की ओर है ।इसलिए सभी खिलाड़ी जोरों शोरों से मेहनत करने में लगे हुए हैं ।

चार साल पहले ऑस्ट्रेलिया में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में देश को स्वर्ण पदक दिलाने वाले पहलवान बजरंग पूनिया का कहना है कि वह इस बार भी इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज करवाएंगे। 

जानकारी के लिए बता दें, टोक्यो ओलंपिक में इंजरी के चलते बेशक वह देश को कांस्य पदक दिला सके थे, लेकिन उनसे देशवासियों को सदैव सोने की ही उम्मीद रहती है। राष्ट्रमंडल खेलों में इसी उम्मीद को पूरा करने के लिए वह फिलहाल अमेरिका के मिशिगन में पसीना बहा रहे हैं। 

बता दें, विश्व में  बजरंग पूनिया उत्तम पहलवानों की श्रृंखला में 5 स्थान पर है । अब इंग्लैंड के बर्मिंघम में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में 65 किलो भार वर्ग में सोना जीतने की तैयारी में जुटे हैं। मूलरूप से झज्जर के गांव खुड्डन फिलहाल सोनीपत के मॉडल टाउन निवासी बजरंग पूनिया राष्ट्रमंडल खेलों में बेहतर प्रदर्शन के लिए अमेरिका में अभ्यास कर रहे हैं। ओलंपियन बजरंग पूनिया ने कहा कि इस प्रतियोगिता में आने वाले सभी पहलवान अपने-अपने देश के सर्वश्रेष्ठ होंगे। ऐसे में पुनिया को जी तोड़ मेहनत करनी होगी और अगर सोना जीत कर लाना है तो एड़ी चोटी का जोर लगाना होगा ।

एक इंटरव्यू में पुनिया ने कहा,एकमात्र लक्ष्य सोना जीतना है। इसके लिए वह विदेशी प्रशिक्षक और पार्टनर के साथ सुबह-शाम पांच घंटे कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने माना कि अमेरिका का बेहतर मौसम उन्हें तैयारियों में फायदा देगा। यहां पर तापमान अभ्यास के लिए काफी बेहतर है। साथ ही यहां रहकर मैं सिर्फ अभ्यास पर ध्यान दे रहा हूं। 

यूं तो बजरंग ने कई पदक जीत कर भारत देश का सदैव नाम रौशन किया है लेकिन इस बार उन्हें केवल केवल और गोल्ड की चाहत है और उनकी तैयारी और हौसले को देखते हुए ऐसा लगता है की इस बार बजरंग पुनिया अपने नेक इरादों में कामयाब होंगे और सोना जीतकर भारत ले आएंगे ।