Yuva Haryana
भाजपा नेता अरविन्द शर्मा ने मुख्यमंत्री पर जताई नाराजगी : बोले - मुझे नहीं मानते सरकार का हिस्सा
 

रोहतक से भाजपा सांसद अरविन्द शर्मा ने कहा अगर मैं सरकार में होता तो दो घंटे में पहरावर गांव की जमीन गौड़ सस्था के नाम कर चुका होता । वह मुख्यमंत्री मनोहर लाल की खिलाफत नही है । उन्होंने कहा की वो केवल अपना हक मांग रहे हैं। 

जमीन का मसला है उसका जल्द समाधान कर लेना चाहिए । उन्होंने मुख्यमंत्री के बारे में कहा कि मुख्यमंत्री मेरी सरकार में हिस्सेदारी नहीं समझते ।  

प्रदेश सरकार की ओर से गौड़ सस्था को दी जाने वाली जमीन की चिट्ठी के साथ भवन बनाने की भी जिम्मेदारी लेनी चाहिए सांसद अरविंद शर्मा रविवार को करनाल जाते समय मुरथल स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर ब्राह्मण समाज के लोगो व भाजपा कार्यकर्ता को संबोधित कर रहे थे ।

उन्होंने आगे बात करतें हुए कहा कि गौड़ संस्था की जमीन को देने में देरी की क्यों जा रही हैं। यह समझने वाली बात है । एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री ने सिरसा में कहा था की डॉ. अरविंद सरकार ने होते तो जानते कि फैसले लेना कितना मुश्किल है ।

इस बात का तो यह अर्थ निकलता है की उनको मुख्यमंत्री सरकार का हिस्सा नहीं समझते । वही उन्होंने कहा कि यदि वो सरकार में शामिल होते तो दो घंटे में जमीन गौड़ संस्था को सौप देता ।

यह केवल गौड़ संस्था का सवाल नहीं है यह किसी भी संस्था का मुद्दा होता उसे मैं तुरंत हल कर लेता। इसलिए मुख्यमंत्री से मांग करते है कि तुरंत जमीन दी जाए और यही नहीं उस जमीन पर बनने वाला भवन भी सरकार बनवा कर दे।