Yuva Haryana
हरियाणा निकाय चुनावों में आमना सामना करेंगी बीजेपी और जेजेपी, दुष्यंत चौटाला ने चुनाव को लेकर लिया अहम फैसला
 

हरियाणा में भाजपा द्वारा शहरी निकाय चुनाव अकेले लड़ने के फैसले के बाद उसकी सहयोगी पार्टी जजपा ने भी अपने पत्ते खोल दिए हैं। जननायक जनता पार्टी के महासचिव दिग्विजय सिंह चौटाला ने रात को बताया कि उनकी पार्टी शहरी निकाय चुनाव लड़ेगी।

दिग्विजय सिंह चौटाला ने अपने पिता जजपा अध्यक्ष अजय सिंह चौटाला और भाई उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला से विचार-विमर्श के बाद शहरी निकाय चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। दुष्यंत चौटाला आजकल विदेश यात्रा पर है और इसी सप्ताह उनके लौटने की भी उम्मीद है।

शनिवार को हिसार में हुई भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी और चुनाव समिति की बैठकों में जजपा को किनारे करते हुए अपने बूते पर अकेले ही शहरी निकाय चुनाव लड़ने का फैसला किया गया था। इसके बाद कयास लगाए जाने लगे कि सत्ता में साझीदार जजपा के साथ सत्ता का गठबंधन भी अधिक दिन नहीं चलने वाला है। हालांकि भाजपा ने अभी तक ऐसी कोई बात अधिकारिक तौर पर यही कही है।
जजपा महासचिव दिग्विजय चौटाला ने रविवार रात को कहा कि हमारी पार्टी और कार्यकर्ता सभी शहरी निकाय चुनाव अपने बूते पर लड़ने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि हम सिर्फ लड़ने के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगे, बल्कि शहरी निकाय चुनाव में जीत हासिल करने के लिए ताल ठोकेंगे।
उन्होंने कहा कि हम नगर परिषद के चुनाव सिंबल पर लड़ेंगे और नगर पालिकाओं के चुनाव को सिंबल पर लड़ने अथवा लड़ने का फैसला जल्द ही ले लिया जाएगा। राज्य में 18 नगर परिषद और 28 नगर पालिका के चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया 30 मई से शुरू हो रही है। 19 जून को चुनाव होंगे।