Yuva Haryana
आस्था कुंज से 2 बच्चे हुए फरार, इससे पहले भी बच्चे हो चुके है फरार
 

हरियाणा: रेवाड़ी में स्थित आस्था कुंज में रेहने वाले बच्चो की संख्या में से दो बच्चे गायब है। बताया जा रहा है की ये दोनो बच्चे अपनी मरजी से आस्था कुंज से फरार हुए है। बच्चो के गायब होने की खबर शनिवार को बच्चो की गिन्ती करते समय पता चली। इसके बाद आस्था कुंज के अधिकारियों ने पुलिस को सुचना दी। रेवाड़ी की पुलिस दोनों बच्चों की तलाश में जुटी हूई है। 
आपको बता दें कि ये दोनों बच्चे रात के अंधेरे में खिड़की खोलकर छत के रास्ते फरार हुए। इन्मे से एक बच्चा झज्जर जिले का रहने वाला है, तो दुसरा बच्चा  पश्चिम बंगाल का रहने वाला है।

 झज्जर जिले के रहने वाले बच्चे की उम्र 15 साल है,  8 जुलाई को ही CWC की तरफ से  इस बच्चे को रेवाड़ी के आस्था कुंज में पहुंचाया था। जबकि फरार होने वाले दूसरे बच्चे की उम्र सिर्फ 10 साल है। आस्था कुंज में अभी  31 बच्चों को रखे गए थे। जिन्मे से 2 बच्चे अब फरार है। शनिवार सुबह जब गिनती की गई तो 29 ही बच्चे मिले। इसके बाद हर बच्चे को नाम के साथ आवाज लगाई गई। जिसके बाद दो बच्चों के फरार होने की जानकारी मिली तो वहां हड़कंप मच गया।
पता लगने के तुरंत बाद ही इसकी सूचना की जानकारी पुलिस को दी गई। सूचना के बाद पुलिस की एक टीम जांच के लिए आस्था कुंज भी पहुंची। साथ ही सिटी पुलिस दोनों बच्चों की तलाश करने में जुटी है। अभी दोनों बच्चों का सुराग नहीं लग पाया है। आस्था कुंज की तरफ से दोनों बच्चों के लापता होने की शिकायत दी गई है।

बता दें कि रेवाड़ी स्थित आस्था कुंज से बच्चों के फरार होने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी यहां से कई बार बच्चे फरार हो चुके है, जिसमें स्टाफ की बड़ी लापरवाही भी देखने को मिलती रही। एक बार फिर बच्चे के फरार होने का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है।

आस्था कुंज की अधीक्षक मुग्धा यादव ने बताया कि झज्जर जिले का रहने वाला बच्चा 8 जुलाई को ही उनके पास आया था। बच्चा पहले भी कई बार घर से भाग चुका है। सिंगर बनने के लिए वह मुम्बई भाग गया था। किसी संस्था की मदद से वह यहां पहुंचा। उसके बाद से ही वापस जाने की जिद कर रहा था। इसके परिजनों को भी कई बार बुलाया गया, लेकिन वे उसे लेने पहुंचे। रात के वक्त सभी बच्चे सोए हुए थे। तभी वह एक 10 साल के दूसरे बच्चे को बहला फुसलाकर खिड़की से छत के रास्ते भाग निकला। इसकी शिकायत पुलिस को दे दी गई है।