Yuva Haryana
130 साल पुराने करनाल स्टेशन का होगा कायापलट, स्टेशन को देंगे ग्लोबल लुक, यात्रियों का सफर होगा और अनुकूल
 
अब 130 वर्ष पुराने करनाल रेलवे स्टेशन के दिन बदलने वाले है। साथ ही कुछ समय बाद यहां आने पर रेल यात्रियों को सफर करने में बेहद सुखद अनुभूति होगी और आधुनिक समय की तमाम आवश्यकता के अनुरूप स्टेशन को ग्लोबल लुक में बदलने की तैयारी शुरू कर दी गई है और इसके तहत यहां रेल यात्रियों के लिए विविध प्रकार के व्यंजन परोसने वाला शानदार फूड कोर्ट और रेस्टोरेंट बनाने की तैयारी है। स्टेशन पर बनने वाले यात्रियों को प्रतीक्षा रूम में भी पूरी तरह सुविधाजनक ढंग से अपनी ट्रेन का इंतजार कर सकेंगे । स्टेशन पर एक्सीलेटर लिफ्ट और बैटरी चलित कार जैसी सुविधाएं भी कराई जाएंगी जिसके बाद यात्रियों को आवागमन में किसी प्रकार की दिक्कत ही भी होगी।
करनाल रेलवे स्टेशन को आदर्श रूप देने के प्रयास काफी समय से किया जा रहे हैं। रेलवे की ओर से वेटिंग रूम के साथ-साथ इंटरनेट तक की सुविधा यात्रियों को दी जानी है। इसके अलावा नई बिल्डिंग और अन्य निर्माण भी यहां जा रहे हैं। अब किसी सिलसिले को आगे बढ़ते हुए स्टेशन को विश्वस्तरीय रंगत में डालने की प्रक्रिया आगे बढ़ाई जा रही है। जिसके साथ ही टेंडर सहित अन्य औपचारिकताएं पूरी करने की दिशा में लगातार आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। इसके तहत मैपिंग भी की गई है, कि रेलवे की ओर से पहले ही है । स्पष्ट किया जा चुका है कि करनाल रेलवे स्टेशन पर विभिन्न प्रकार की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। हालांकि इसके लिए पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मॉडल के आधार पर कार्य किया जाएगा।
रेलवे स्टेशन पर प्रति व्यक्ति परियोजनाओं के तहत यह मुख्य रूप से फूड कोर्ट, रेस्टोरेंट और यात्रियों के लिए आधुनिक वातानुकूलित प्रतीक्षालय बनाने की तैयारी है। स्टेशन पर ही यात्रियों की सहूलियत के लिए शॉपिंग मॉल भी बनाने की पूरी संभावना है। करनाल के अलावा उत्तर रेलवे में मुरादाबाद, बरेली और जालंधर स्टेशनों पर भी इसी प्रकार की सुविधाएं बढ़ाने की तैयारियां की जा रही है। प्रोजेक्ट में विशेष रूप से गठित किया गया है कि 5 महीने की अवधि में सभी चयनित स्टेशनों के मानचित्र तैयार करेगा इसके बाद निर्माण कार्य के लिए कंपनी चयन की प्रक्रिया शुरू होगी। यदि आवश्यकता हुई तो स्टेशन के पुराने भवनों को तोड़कर कुछ बदलाव के साथ नया निर्माण किया जा सकता है। इसके तहत प्लेटफार्म पर आने जाने वाले यात्रियों के लिए बेहतर व चौड़े रास्ते बनाए जाएंगे। महिला व पुरुष के लिए अलग-अलग वातानुकूलित प्रतीक्षालय होंगे। कोच की स्थिति भी डिस्पले बोर्ड पर ही मिलेगी। स्टेशन पर बैट्री चालित कार सहित अन्य अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।
जीटी रोड बेल्ट पर करनाल को चावल के अलावा फार्म और कृषि उपकरण उद्योग के लिए भी अलग पहचान हासिल है। हालांकि सड़क परिवहन के लिहाज से तो यहां पहले ही काफी अच्छी सुविधाएं उपलब्ध हैं, लेकिन रेलवे स्टेशन पर अभी काफी संभावनाएं हैं। अब स्टेशन को नया लुक देने और यहां सुविधाओं बढ़ाने के कनेक्टिविटी बढ़ाने के साथ यहां आने वाले लोगों को सुखद अनुभूति होगी इससे उम्मीद की जा रही है, कि आने वाले दिनों में प्रमुख व्यापारिक औद्योगिक गतिविधियों में भी इजाफा हो सकेगा।