हरियाणा में फिर से मौसम लेगा करवट ,इन जिलों में बारिश की संभावना, किसानों को हो सकती है पेरशानी

Sahab Ram
2 Min Read

 

Yuva Haryana : हरियाणा में मौसम का मिजाज फिर से बदल रहा है। पश्चिमी विश्वोभ के सक्रिय होने से कई क्षेत्रों में बूंदाबांदी की संभावना है। इसके साथ ही तापमान में भी कमी आने की संभावना है, जिससे ठंड का एहसास हो सकता है। फिलहाल, 29 मार्च तक मौसम परिवर्तनशील रहेगा।

मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिनों में बारिश होने की संभावना है। मंगलवार को भी इस क्षेत्र में भारी बारिश होने की संभावना है। अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। अधिकतम तापमान में दो डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है।
मौसम विभाग ने बताया है कि सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के कारण 4 जिलों पंचकूला, अंबाला, कुरूक्षेत्र और यमुनानगर में बारिश की संभावना है। अन्य जिलों में बादल छाये रहने की संभावना है। रात और दिन के तापमान में अभी भी काफी अंतर है। 29 मार्च के बाद दिन का तापमान बढ़ेगा। इसका कारण यह है कि दिन में तेज धूप और हवा न चलने के कारण पारे में एक या दो डिग्री की बढ़ोतरी देखी जा सकती है। रात के समय न्यूनतम तापमान में कोई खास असर देखने को नहीं मिलेगा।

किसानों का कहना है कि उनके क्षेत्र में सरसों और गेहूं की बुवाई की जाती है। धान की कटाई जोरों पर चल रही है। लेकिन खराब मौसम के कारण काम में देरी हो रही है।
मंडी भी फसलों से भरी पड़ी है जिस वजह से किसाने की चिंता बढ़ने भी लाजमी है. अगर बरसात होती है तो नुकसान हो सकता है। सरसों की कटाई लगभग पूरी होने वाली है। अब गेहूं की कटाई होनी शुरू हो जाएगी. गेहूं की फसल को काफी नुकसान हो सकता है जिस वजह से किसान चिंतित हैं।

Share This Article
Leave a comment