गठबंधन सरकार ने ‘मैक्सिमम सपोर्ट टू पीपल’ के तहत हर वर्ग व हर क्षेत्र का विकास किया – डिप्टी सीएम

Sahab Ram
5 Min Read

Yuva haryana हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि मौजूदा बीजेपी-जेजेपी प्रदेश सरकार ने पूर्व कांग्रेस सरकार की तरह ‘मिनिमम सपोर्ट टू पीपल’ की सोच नहीं रखी, बल्कि गठबंधन सरकार ने दिल बड़ा करके ‘मैक्सिमम सपोर्ट टू पीपल’ के तहत काम किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी, किसान आंदोलन के बावजूद गठबंधन सरकार ने बिना किसी भेदभाव के हर वर्ग, हर क्षेत्र में पब्लिक की सपोर्ट करते हुए निरंतर प्रदेश को प्रगति के पथ पर अग्रसर किया है।

वे वीरवार को विधानसभा बजट सत्र में कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव पर हो रही चर्चा के दौरान बोल रहे है। उन्होंने कहा कि आज हमारे पास विपक्ष की पीड़ा का कोई निवारण नहीं है। डिप्टी सीएम ने यह भी कहा कि पहले लोग विज्ञापन के जरिए हरियाणा नंबर-1 का दावा करते थे लेकिन धरातल पर जनता ने काम देखा और कांग्रेस को सत्ता से बाहर किया।

कांग्रेस के वॉकआउट पर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कांग्रेस अपनी बात रखकर सदन का समय बर्बाद करती है और मौका आने पर कांग्रेसी सदन छोड़कर चले जाते है इसलिए सदन को कांग्रेस के खिलाफ रेजोल्यूशन लाना चाहिए।

जमीन अधिग्रहण से जुड़े मामलों पर विपक्ष की टिप्पणी पर उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में रोहतक के एक प्रॉपर्टी डीलर के विरुद्ध हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने फैसले सुनाए थे इसलिए राज्य सरकार को रोहतक में हुए इस विवादित जमीन सौदे की उच्च स्तरीय जांच करवानी चाहिए।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि गठबंधन सरकार ने किसानों के हित में 14 फसलों की एमएसपी पर खरीद की है। उन्होंने कहा कि फसल खरीद के करीब एक लाख करोड़ रुपए का भुगतान सीधा किसानों के बैंक खातों में किया गया है जबकि पहले किसानों को भुगतान के पैसे लेने के लिए लंबे समय तक इंतजार करना पड़ता था।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि गठबंधन सरकार ने पिछले सवा चार साल में फसल खराबे, आगजनी से फसल खराब, बरसात से मकान की क्षति की भरपाई के लिए किसानों को 1600 करोड़ रुपए का मुआवजा उनके खाते में डाला है जबकि पूर्व कांग्रेस सरकार के दौरान किसानों को दो, पांच, सात रूपए का चैक मुआवजा के तौर पर देकर मजाक उड़ाया जाता था।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आज गठबंधन सरकार ने किसानों के हित में क्षतिपूर्ति पोर्टल बनाया है। वहीं 600 से ज्यादा सेवाओं को डिजिटल करके उन्हें घर द्वार पर पहुंचाई है और अब दफ्तरों के चक्कर काटने के बजाय आमजन को सरकारी सेवाओं लेने में आसानी हुई हैं।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के दौरान विकास कार्य केवल रोहतक तक ही सीमित रहते थे जबकि गठबंधन सरकार ने बिना भेदभाव सवा चार सालों में 20 हजार किलोमीटर सड़कों का सुधार किया है। इसी तरह खरखौदा में बड़ी कंपनी मारुति का प्लांट लगाने का काम किया। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पिछले सवा चार सालों में गठबंधन सरकार के प्रयास से 40 हजार करोड़ रुपए का निवेश प्रदेश में आया है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने एविएशन सेक्टर को विकसित करने पर खासा फोकस किया और इस दिशा में हरियाणा में पांच हवाई पट्टियां का विकास, हिसार में एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट निर्माणाधीन, युवाओं को पायलट ट्रेनिंग देकर नौकरी दिलाने जैसे अनेक काम हुए है, जबकि पूर्व कांग्रेस ने इस पर कभी ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि आज गठबंधन सरकार का ही नतीजा है कि पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं को 50 आरक्षण, बीसीए वर्ग को आठ प्रतिशत आरक्षण और डिपो संचालन में महिलाओं को 33 प्रतिशत हिस्सेदारी देने जैसे अनेक ऐतिहासिक कार्य हुए है।

Share This Article
Leave a comment