चुनाव आयोग की सुविधा का उठाएं फायदा, ऑनलाइन चेक करें वोटिंग लिस्ट में अपना नाम: अनुराग अग्रवाल

Sahab Ram
4 Min Read

Yuva Haryana – लोकसभा चुनाव के लिए अब कुछ ही समय शेष बचा है। चुनाव आयोग ने मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन पहले ही कर दिया है और मतदाताओं को इसमें अपना नाम सहित अन्य विवरण जांचने के लिए अंतिम मौका दिया है। इसलिए सभी मतदाता समय रहते अंतिम प्रकाशित मतदाता सूची में अपने नाम का अवलोकन कर लें।

मतदाता सूची में अपना नाम चेक करना बहुत ही आसान है। आप इसे ऑनलाइन अपने कंप्यूटर या मोबाइल से कर सकते हैं। मतदाता सूची में अपना नाम खोजने के लिए आपको अपने राज्य एवं विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के नाम, अपना प्रथम एवं अंतिम नाम, जन्म तिथि और आयु इत्यादि की जानकारी देनी होगी।

अगर आप अपने कंप्यूटर के जरिए यह काम कर रहे हैं तो आपको सबसे पहले चुनाव आयोग की वेबसाइट https://voters.eci.gov.in/ पर जाना होगा और इसमें दिख रहे सर्च इन इलेक्टोरल रोल ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक फार्म निकलेगा। आप इसमें जरूरी डिटेल भरने के बाद सर्च ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने मतदाता सूची से संबंधित आपकी जानकारी सामने आ जाएगी।

साथ ही यह भी पता लग जाएगा कि आपका वोट किस मतदान केंद्र पर है। इसके अलावा आप इसी पेज पर ईपीआईसी नंबर के जरिए भी अपना नाम वोटिंग लिस्ट में चेक कर सकते है। वहीं अगर आपका फोन नंबर चुनाव आयोग में रजिस्टर है तो आप फोन नंबर डालकर भी अपना नाम देख सकते हैं।

यदि आप मोबाइल फोन पर अपना नाम वोटिंग लिस्ट में देखना चाहते हैं तो आप वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड कर सकते हैं। इसमें आपको सबसे ऊपर सर्च नेम इन इलेक्टोरल रोल का ऑप्शन दिखेगा। इसमें क्लिक करने के बाद आपके पास वोटिंग लिस्ट में अपना नाम चेक करने के चार विकल्प मिलेंगे। पहला मोबाइल नंबर, दूसरा क्यूआर कोड, तीसरा डिटेल और चौथा ईपीआईसी नंबर। आप किसी भी एक विकल्प का चुनाव कर अपना नाम वोटिंग लिस्ट में देख सकते हैं। हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग अग्रवाल ने कहा कि मतदान करना हर भारतीय नागरिक का अधिकार है और उसकी ड्यूटी भी। मतदान के लिए आपको सुनिश्चित करना चाहिए कि आपके पास वोटर आईडी के साथ-साथ आपका नाम वोटर लिस्ट में भी शामिल हो।

अनुराग अग्रवाल ने कहा कि वोटिंग लिस्ट में नाम होना एक नागरिक के लिए जरूरी है क्योंकि यह उन्हें वोट डालने की अनुमति देता है। वोटिंग लिस्ट एक सरकारी दस्तावेज होता है जिसमें वोट डालने के लिए पंजीकृत नागरिकों के नाम, पता और अन्य संबंधित जानकारी होती है। इसे विभिन्न चुनाव अवसरों पर अपडेट किया जाता है ताकि सही व्यक्ति को सही समय पर वोट डालने की सुविधा मिले।

इसके बिना, नागरिकों को चुनावी प्रक्रिया में शामिल होने का अधिकार नहीं होता, जिससे लोकतंत्र की प्रक्रिया को पूरा होने में कठिनाई हो सकती है। उन्होंने अपील की कि सभी मतदाता ऑनलाइन सुविधा का लाभ उठाकर वोटिंग लिस्ट में अपना नाम चेक करें ताकि वे लोकतंत्र के महापर्व में भागीदार बन सकें।

 

Share This Article
Leave a comment