दिल्ली मेट्रो में एक बार फिर हुई अश्लीलता की हद पार, अश्लील रील बनाते हुए किया डांस

Sahab Ram
3 Min Read

होली के त्यौहार में जहां सभी लोग इस त्यौहार को बड़े खुशहाली से बना रहे हैं वहीं दिल्ली मेट्रो शर्मिंदगी का सबब बन गया है  दिल्लीे मेट्रो  अपने नए-नए कारनामों की वजह से हमेशा चर्चा में रहता है इस बार दिल्ली मेट्रो में दो लड़कियों ना ऐसा कांड कर दिया कि लोगों ने कहा कि यह तो हद ही हो गई है जिससे यह सवाल उठने लगा है कि क्या दिल्ली मेट्रो आधुनिक मछली बाजार बन गया है.

 

इस धारणा को बढ़ावा देने वाली नई घटना में एक वायरल वीडियो शामिल है जिसमें दो लड़कियों को मेट्रो के अंदर अश्लील ढंग से होली खेलते हुए वीडियो बनाते हुए दिखाया गया है. दिल्ली मेट्रो में होली खेलते हुए लड़कियों के इस वीडियो ने लोगों के बीच बहस छेड़ दी है.

 

 

वायरल हो रहे इस वीडियो में देखा जा सकता है कि दो लड़कियां मेट्रो की फर्श पर बैठी हैं और उनके सामने ज़मीन पर रंग रखा हुआ है. एक लड़की ने सफेद सूट पहना है और दूसरे ने साड़ी. दोनों एक दूसरे को अभद्र ढंग से रंग लगाती नज़र आ रही हैं. वीडियो के बैकग्राउंड में 2013 में आई रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की फिल्म रामलीला का पॉप्युलर गाना अंग लगा दे रे…बज रहा है. वीडियो में आगे आप देख सकते हैं कि कैसे ये लड़कियां लेटकर डांस करते हुए एक दूसरे को रंग लगा रही है.

https://x.com/HasnaZaruriHai/status/1771389567238832450?t=9ZZpiqGjzw1GRpgZJHo1Vg&s=08

 

वहीं मेट्रो में बैठे सभी यात्री उन्हें देखकर काफी असहज महसूस कर रहे हैं और कुछ उनके मज़े ले रहे हैं.साथी यात्रियों द्वारा देखी गई इस घटना की ऑनलाइन यूजर्स ने तीखी आलोचना की है, जो लड़कियों की हरकतों को अनुचित बताते हुए इसकी निंदा कर रहे हैं. इसके अतिरिक्त, दिल्ली मेट्रो कॉर्पोरेशन से इस तरह के व्यवहार के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की भी मांग की जा रही है. एक सोशल मीडिया यूजर ने अपने एक्स अकाउंट पर वीडियो पोस्ट किया और कैप्शन दिया, “हमें जल्द से जल्द इसके खिलाफ कानून की जरूरत है.”

 

वीडियो पर एक यूजर ने कमेंट किया, “मैं इस वीडियो को देखकर ही शर्मिंदा हूं! पृष्ठभूमि में लोगों की कल्पना करें.” एक यूजर ने वीडियो पर कमेंट करते हुए लिखा, “किसी कानून की जरूरत नहीं है. प्रति 15 सेकेंड के लिए 1 लाख का चार्ज ही काफी होगा.”

वीडियो के प्रसार ने सार्वजनिक शालीनता और साझा स्थानों में उचित व्यवहार बनाए रखने में व्यक्तियों और अधिकारियों दोनों की जिम्मेदारियों के बारे में व्यापक बातचीत को उजागर किया है. जैसे-जैसे चर्चाएँ सामने आ रही हैं, कई लोग भविष्य में इसी तरह की घटनाओं को रोकने के उपायों के संबंध में संबंधित अधिकारियों से संभावित प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा कर रहे हैं.

Share This Article
Leave a comment