हरियाणा में बीपीएल राशनकार्ड बढ़ी मुश्किलें,अब इन लोगों को राशन मिलने होगी परेशानी

Sahab Ram
3 Min Read

 

 

Yuva Haryana हरियाणा सरकार ने हाल ही में किए गए एक फैसले के तहत बीपीएल (बेलो पॉवर लाइन) राशनकार्ड धारकों की जांच में सुधार के लिए कदम उठाया है। इस फैसले के अनुसार, राशनकार्ड होल्डर्स को अब गलत जानकारियां दर्ज करने के लिए सजा होगी।

हरियाणा सरकार ने हाल ही में किए गए फैसले के तहत BPL (गरीबी प्रधिकृत परिवार) कार्ड धारकों के लिए आने वाले महीने में कई बदलाव की घोषणा की है। इसके परिणामस्वरूप, इन कार्ड होल्डर्स को राशन मिलने में और भी कई मुश्किलें आ सकती हैं।

इसके तहत, राशन डिपो होल्डरों को ईपीडीएस पोर्टल पर रिपोर्ट करने का अधिकार दिया जाएगा, जिससे उन्हें राशन ले रहे उपभोक्ताओं की पात्रता और अपात्रता की जांच करने में सहारा मिलेगा। यह प्रक्रिया सरकार द्वारा फरवरी माह के अंत तक शुरू की जाएगी और ईपीडीएस पोर्टल पर रिपोर्ट सबमिट करने की अनुमति दी जाएगी।

सरकार ने बताया कि इस प्रक्रिया के माध्यम से गलत जानकारियां दर्ज करवाने वालों के खिलाफ सकारात्मक कार्रवाई की जाएगी और अपात्र लोगों के राशनकार्ड रद्द किए जाएंगे। इस सकारात्मक कदम के लिए सरकार ने राशन डिपो होल्डर्स को प्रोत्साहन राशि से सम्मानित किया जाएगा।

इस नई पहल के साथ हरियाणा सरकार गरीब परिवारों को सस्ता राशन और अन्य कल्याणकारी योजनाओं का वितरण करने के लिए और भी प्रबल हो रही है।

सरकार ने यहां तक की 1.80 लाख रुपये से कम वार्षिक आय वाले परिवारों को BPL (गरीबी प्रधिकृत परिवार) और AAY (अंत्योदय अन्न योजना) श्रेणी में शामिल करने के लिए नए राशनकार्ड जारी किए हैं।

इस दिशा में, सरकार ने परिवार पहचान पत्र (PPP) को भी रोजाना अपडेट करने का कार्य शुरू किया है। इस प्रक्रिया के माध्यम से रोजाना अपडेट किए जा रहे परिवार पहचान पत्र के माध्यम से चल-अचल संपत्ति की जानकारी नवीनीकृत की जा रही है। जिस कार्ड के नाम से अधिक संपत्ति मिल रही है, उसका कार्ड रद्द किया जा रहा है।

जिन अपात्र लोगों के राशनकार्ड रद्द किए गए थे, उन्हें सरकार ने फिर से मौका भी दिया था, लेकिन इन्होंने PPP में सही आमदनी की जगह गलत आमदनी दर्ज की. जिस कारण बीपीएल राशन कार्ड की संख्या का आंकड़ा काफी ज्यादा हो गया।

Share This Article
Leave a comment