हरियाणा में INLD प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी की हत्या, अभय चौटाला ने ठहराया प्रशासन को जिम्मेदार

Sahab Ram
2 Min Read

 

 

Yuva Haryana: हरियाणा के बहादुरगढ़ में इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। इस हमले में एक साथी की भी मौत हो गई है, जबकि 2 सुरक्षाकर्मी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला के नाते अभय चौटाला, जो INLD के नेता हैं, हत्या की घटना के बाद बहादुरगढ़ पहुंचे और परिजनों से मुलाकात की।

अभय चौटाला ने बताया कि नफे सिंह राठी की मौत के लिए हरियाणा सरकार जिम्मेदार है और उन्हें पहले ही सुरक्षा की मांग कर रहे थे, लेकिन उन्हें सुरक्षा नहीं दी गई थी। उन्होंने कहा कि यह वारदात लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ा है, लेकिन उन्होंने इसे सीधे रूप से इनकार किया।

चौटाला ने बताया कि छह महीने पहले, नफे सिंह राठी ने गुरुग्राम में उनसे मिलकर बताया था कि पुलिस ने उन्हें खतरे की जानकारी दी है और हमला हो सकता है। इस पर चौटाला ने झज्जर एसपी से बात की और जांच की मांग की थी।

इस दरम्यान, पूर्व विधायकों संघ के नेता ने भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल से वारदात की बात कही थी, लेकिन उन्हें सुरक्षा नहीं मिली। चौटाला ने यहां तक कहा कि राठी को एक प्रदेशाध्यक्ष के रूप में अब्यर्थन का श्रेय देना चाहिए।

इस हमले के बाद चौटाला ने सीधे-सीधे सरकार को जिम्मेदार ठहराया और उन्हें सुरक्षा नहीं देने पर उठते सवालों का सामना करना पड़ेगा।

चौटाला ने कहा कि ऐसे में आप समझ सकते हैं कि इस तरह के लोग किसी के भी घर में घुसकर वारदात कर सकते हैं। इस हमले के लिए मैं सरकार को दोषी करार देता हूं, मुख्यमंत्री को दोषी मानता हूं।

यदि कोई व्यक्ति लिखित में सुरक्षा की मांग करता है तो सरकार का हक बनता है कि उसकी जांच करवाई जाए कि उसे सुरक्षा की जरूरत क्यों है।अगर वाकई में उसे सुरक्षा की जरूरत है तो फिर सरकार की उस व्यक्ति को सुरक्षा देना जिम्मेदारी बनती है।

Share This Article
Leave a comment